NDTV Khabar

पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में अब भी तनाव, बीजेपी नेताओं को वहां जाने से रोका गया

आज एक बार फिर बीजेपी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल बशीरहाट जाने से रोक दिया गया है. इन बीजेपी के नेताओं को कोलकाता में ही रोक दिया गया है. 

19 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में अब भी तनाव, बीजेपी नेताओं को वहां जाने से रोका गया

बशीरहाट में हिंसा के बाद क्षतिग्रस्त मकान.

खास बातें

  1. बीजेपी के नेताओं को कोलकाता में ही रोक दिया गया
  2. बीजेपी की नेता रूपा गांगुली को बशीरहाट जाने से रोका गया था.
  3. शल मीडिया पर एक पोस्ट डाले जाने के बाद से हिंसा भड़की
कोलकाता: पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में हिंसक घटनाओं के बाद अब भी तनाव है. वहां की घटनाओं पर अब सियासत पूरी तरीके से गरमाई हुई है. आज एक बार फिर बीजेपी नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल बशीरहाट जाने से रोक दिया गया है. इन बीजेपी के नेताओं को कोलकाता में ही रोक दिया गया और हिरासत में ले लिया गया.

सांसद मीनाक्षी लेखी, ओम माथुर और सत्यपाल सिंह वाली भाजपा की एक केंद्रीय टीम को आज पश्चिम बंगाल के दंगा प्रभावित बशीरहाट इलाके में जाने से रोक दिया गया तथा इसके सदस्यों को हिरासत में ले लिया गया.

लेखी ने पुलिसकर्मियों से पूछा कि जैसा कि राज्य सरकार दावा कर रही है कि बशीरहाट में स्थिति नियंत्रण में है तो उन्हें वहां जाने की इजाजत क्यों नहीं दी जा रही? उन्होंने पुलिसकर्मियों से कहा,  हम सांसद हैं और सिर्फ हम तीन ही लोग वहां जायेंगे. आप हमारे साथ चलिये. पुलिसवालों ने हालांकि उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी.

गुरुवार को बीजेपी की नेता रूपा गांगुली को बशीरहाट जाने से रोका गया था. इसके बाद काफ़ी हंगामा हुआ. साथ ही लेफ़्ट और कांग्रेस के नेताओं को भी वहां जाने से रोका गया था. दरअसल यहां सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाले जाने के बाद से हिंसा भड़की थी. हिंसा का दायरा बढ़ा और हालात पर क़ाबू पाने के लिए बीएसएफ़ को बुलाया गया. धारा 144 लागू होने के बाद भी हिंसा हुई और प्रदर्शनकारियों ने रास्ते बंद किए. पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े. हिंसा के दौरान एक शख़्स की मौत भी हुई है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement