सुषमा स्वराज के आकस्मिक निधन पर ममता बनर्जी ने व्यक्त किया दुख, कहा- उनकी कमी खलेगी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार रात पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया.

सुषमा स्वराज के आकस्मिक निधन पर ममता बनर्जी ने व्यक्त किया दुख, कहा- उनकी कमी खलेगी

ममता बनर्जी ने सुषमा स्वराज के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार रात पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया. बनर्जी ने स्वराज को एक उत्कृष्ट राजनीतिज्ञ, एक अच्छा इंसान बताया और कहा कि उनके साथ उन्होंने 'संसद में कई अच्छे पल बिताए.'  मुख्यमंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'सुषमा स्वराज जी के आकस्मिक निधन पर गहरा दुख हुआ, 1990 के दशक से ही मैं उन्हें जानती थी. भले ही हमारी विचारधाराएँ भिन्न थीं, हमने संसद में कई सौहार्दपूर्ण पल साझा किए. एक उत्कृष्ट राजनेता, अच्छी इंसान. उनकी कमी खलेगी. बनर्जी इस समय चेन्नई में हैं. 

सुषमा स्वराज के निधन पर पीएम मोदी ने जताया शोक, कहा- 'भारत असाधारण नेता के निधन से दुखी है'

विदेश मंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने भारत-पाक और भारत-चीन संबंधों सहित रणनीतिक रूप से संवेदनशील कई मुद्दों को देखा और बखूबी अपनी जिम्मेदारी निभाई. भारत और चीन के बीच डोकलाम गतिरोध को दूर करने में उनकी भूमिका को हमेशा याद रख जाएगा. स्वराज की तारीफ हर राजनीतिक दल के लोग करते थे. लोग उनकी भाषण कला को पसंद करते थे. वह जब संसद में बोलती थीं तो सदस्य उन्हें गंभीरता के साथ सुनते थे. 

सुषमा स्वराज की लोकप्रियता देश की सीमाएं लांघती रही, नेतृत्व के कई रिकार्ड बनाए 

सुषमा स्वराज भाजपा की एक ऐसी हस्ती थीं जिन्होंने न सिर्फ एक प्रखर वक्ता के रूप में अपनी छवि बनाई, बल्कि उन्हें ‘जन मंत्री' कहा जाता था. इतना ही नहीं वह जब विदेश मंत्री बनीं तो उन्होंने आम आदमी को विदेश मंत्रालय से जोड़ दिया. वह सिर्फ एक ट्वीट पर विदेश में फंसे किसी भारतीय की मदद के लिए तुरंत सक्रिय हो जाती थीं. बीजेपी के अलावा अन्य दलों के नेताओं के साथ उनके मधुर संबंध रहे.

VIDEO: पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन, एम्स में ली अंतिम सांस

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com