बंगाल के मंत्री ने विभाग बदले जाने पर दिया इस्तीफा, कैमरे के सामने फूट-फूट कर रोए

Trinamool Congress के नेता राजिब बनर्जी का यह कदम ऐसे वक्त सामने आया है, जब उन्होंने पार्टी के कुछ नेताओं पर उनके खिलाफ दुष्प्रचार फैलाने का आरोप लगाया था.हालांकि उन्होंने आरोपों पर किसी का नाम नहीं लिया था.

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल के वन मंत्री राजिब बनर्जी ने शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया.जनवरी 2021 में ही तृणमूल कांग्रेस सरकार छोड़ने वाले वह तीसरे मंत्री हैं. राजिब ने जब शुक्रवार को मीडिया के सामने अपने इस्तीफे की वजह बताई तो अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख सके. वह फूट-फूट कर रोने लगे. राजिब ने कहा कि उन्हें कोई औपचारिक सूचना दिए बिना उनका विभाग बदल दिया गया. इस कारण वह कैबिनेट मंत्री के तौर वन विभाग के मंत्रिपद से इस्तीफा दे रहे हैं. टीएमसी के कई नेता हाल ही में बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. बंगाल में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं.


यह भी पढ़ें- बंगाल: शुभेन्दु अधिकारी के रोड शो में लगा था 'गोली मारो' का नारा, तीन BJP कार्यकर्ता गिरफ्तार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी त्यागपत्र भेजा, जिसे बाद में राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने स्वीकार कर लिया. राजभवन में राज्यपाल धनखड़ से मुलाकात के बाद जब राजिब बाहर आए तो उन्होंने कहा कि वह बुरी तरह आहत हुए जब उन्हें एक टीवी चैनल के जरिये उनका विभाग सिंचाई से वन किए जाने की जानकारी मिली. राजिब ने कहा कि विभाग बदले जाने से उन्हें समस्या नहीं थी, लेकिन जिस तरह से यह किया गया, उससे उन्हें तकलीफ हुई. राजिब ने कहा कि इतने वर्षों तक ममता बनर्जी के दिशानिर्देशन के लिए वह उनके शुक्रगुजार हैं और आगे भी वह बंगाल की जनता की भलाई के लिए काम करते रहेंगे.