Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

प्रोफेसर ने कुंवारी लड़कियों को बताया 'सीलबंद बोतल', मचा बवाल, महिला आयोग ने की कार्रवाई की मांग

राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी को प्रोफेसर के ‘महिला विरोधी’ बयान की जांच करने और उचित कार्रवाई करने के लिए कहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रोफेसर ने कुंवारी लड़कियों को बताया 'सीलबंद बोतल', मचा बवाल, महिला आयोग ने की कार्रवाई की मांग

यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल रिलेशन पढ़ाने वाले प्रोफेसर कनक सरकार.

खास बातें

  1. आलोचना के बाद हटाई पोस्ट
  2. फेसबुक पोस्ट से मचा बवाल
  3. महिला आयोग ने की कार्रवाई की मांग
कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की जाधवपुर यूनिवर्सिटी (Jadavpur University) के एक प्रोफेसर ने कुंवारी लड़कियों की तुलना 'सीलबंद बोतल' या 'पैकेट' से की है. प्रोफेसर ने इसको लेकर फेसबुक पर पोस्ट (FB Post) लिखी थी, जिसके बाद बवाल खड़ा हो गया. 'कुंवारी दुल्हन-क्यों नहीं?' शीर्षक के साथ लिखी पोस्ट को प्रोफेसर ने बाद में डिलिट कर दिया, लेकिन वह इस पोस्ट को लेकर अपना बचाव करते रहे कि सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें 'सोशल मीडिया पर अभिव्यक्ति की आजादी' दी है.

यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल रिलेशन पढ़ाने वाले प्रोफेसर कनक सरकार (Kanak Sarkar) ने पोस्ट में लिखा था, 'कुंवारी लड़कियां सीलबंद बोतल या सीलबंद पैकेट की तरह होती हैं. क्या कोई भी बिस्कुट के ऐसे पैकेट या फिर कोल्ड ड्रिंक खरीदना पसंद करेगा जिसकी सील टूटी हुई हो. अधिकत्तर लड़कों के लिए वर्जिन पत्नी परी की तरह होती हैं.'

v20i762o

8वीं की छात्रा ने होस्टल में दिया बच्ची को जन्म तो निकाल दिया बाहर, बेटी के साथ जंगल में लेनी पड़ी शरण


राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी को प्रोफेसर के ‘महिला विरोधी' बयान की जांच करने और उचित कार्रवाई करने के लिए कहा है. एनसीडब्ल्यू ने प्रोफेसर के इस ‘चौंका देने वाले महिला विरोधी बयान' पर स्वत: संज्ञान लिया और पश्चिम बंगाल के डीजीपी को मामले की जांच करने और उचित कार्रवाई करने के लिए कहा. उन्होंने डीजीपी को आयोग को इस संबंध में अवगत कराने के लिए भी कहा. इसके साथ ही न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक महिला आयोग की टीम यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर से मुलाकात करेगी.

चेन्नई: हॉस्टल की लिफ्ट में छात्रा के सामने कर्मचारी ने की 'गंदी हरकत', वार्डन ने ड्रेस को बताई वजह

प्रोफेसर ने फेसबुक पर सफाई देते हुए वह उसकी व्यक्तिगत पोस्ट थी और उसने अभिव्यक्ति की आजादी का जिक्र किया. उसने लिखा, 'मैंने किसी भी इंसान, व्यक्ति या किसी के खिलाफ बिना किसी सबूत या किसी संदर्भ के कुछ भी नहीं लिखा है. मैं सोशल रिसर्च कर रहा हूं और समाज की भलाई की के लिए लिख रहा हूं.'

आप वर्जिन हैं? क्या आपकी कई बीवियां हैं?... मंत्री मंगल पांडे ने दिया यह हैरतअंगेज जवाब

प्रोफेसर की पोस्ट को लेकर हुई आलोचना के बाद जाधवपुर यूनिवर्सिटी ने उनके खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही. जाधवपुर यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर सुरंजन दास ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस से बात करते हुए कहा, 'हम कानून के मुताबिक कार्रवाई करेंगे.'

(इनपुट- एजेंसियां)

उत्तर प्रदेश: सरेराह छेड़खानी कर रहा था शख्स, तंग आकर छात्रा ने निकाली चप्पल और कर दी धुलाई

टिप्पणियां

VIDEO- शिक्षक ने किया छात्रा का यौन उत्पीड़न, अभिभावकों का फूटा गुस्सा

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... CAA के खिलाफ जनसभा में 'पाकिस्तान जिंदाबाद' बोलने वाली लड़की ने एक सप्ताह पहले लिखी थी FB पोस्ट 'सभी देश जिंदाबाद'

Advertisement