Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

...जब बीच भाषण में एक शख्स ने वित्त मंत्री से पूछा - जेटली जी, बुलेट ट्रेन को हिंदी में क्या कहेंगे?

अचानक सवाल सामने आने पर वित्तमंत्री अरुण जेटली असहज हो गए और सवाल पूछने वाले शख्स को फटकार लगाई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
...जब बीच भाषण में एक शख्स ने वित्त मंत्री से पूछा - जेटली जी, बुलेट ट्रेन को हिंदी में क्या कहेंगे?

वीडियो में व्यक्ति को यह कहते हुए भी सुना गया कि 'हिंदी के बीच में अंग्रेजी न घुसाएं.'

खास बातें

  1. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सवाल पूछने वाले शख्स को लगाई फटकार
  2. कहा, 'कृपया गंभीर हो जाइए, गंभीर होने का भी प्रयास करिए'
  3. जेटली बुलेट ट्रेन पर हो रही बहस के संबंध में बोल रहे थे
नई दिल्ली:

वित्तमंत्री अरुण जेटली रविवार को दिल्ली में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे तभी एक व्यक्ति ने उनसे पूछा कि 'जेटली जी, बुलेट ट्रेन को हिंदी में क्या कहेंगे.'  जाहिर है वित्त मंत्री इस तरह के प्रश्न की अपेक्षा तो बिल्कुल नहीं कर रहे थे. अचानक इस तरह का सवाल सामने आने पर वे असहज हो गए. उन्होंने फटकारते हुए अंदाज में शख्स से कहा, 'कृपया गंभीर हो जाइए. आपको एक बार नोटिस कर लिया गया है. गंभीर होने का भी प्रयास करिए.' घटना का वीडियो वायरल हो रहा है.

वीडियो में व्यक्ति को यह कहते हुए भी सुना गया कि यह गंभीर मसला है और 'हिंदी के बीच में अंग्रेजी न घुसाएं.' इसके बाद वित्तमंत्री अरुण जेटली फिर से अपने भाषण पर केंद्रित हो गए. अपने संबोधन के दौरान अरुण जेटली इस विषय पर बोल रहे थे कि किस तरह बुलेट ट्रेन पर आधी अधूरी जानकारियों से भरी बहसें चल रही हैं.   

गौरतलब है कि 14 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके जापानी समकक्ष शिंजो अबे ने अहमदाबाद में देश की पहली बुलेट ट्रेन की नींव रखी.


पढ़ें: रिटर्न दाखिल करने के लिए 75 प्रतिशत लोग एक ही दिन पोर्टल पर टूट पड़ेंगे तब समस्या होगी : जेटली

इसी कार्यक्रम के दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने एक और बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि बीजेपी सेंट्रिस्‍ट यानी मध्यमार्गी पार्टी है न की दक्षिणपंथी. अभी तक बीजपी की छवि दक्षिणपंथी पार्टी के तौर पर जानी जाती रही है लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली के इस बयान को काफ़ी अहम माना जा रहा है यानी जो पहचान बीजेपी की रही है वो उससे साफतौर पर पीछे हटती नज़र आ रही है.

टिप्पणियां

कहीं इसके पीछे वजह आने वाले वक्त में कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव या 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र अपनी छवि बदलने की कोशिश तो नहीं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... धर्म साबित करने के लिए 'रुद्राक्ष' दिखाया, जान बचाने के लिए गिड़गिड़ाया - अब ऐसी हो गई है दिल्ली

Advertisement