NDTV Khabar

गुजरात बीजेपी में अंदरूनी कलह, नितिन पटेल के बाद एक और विधायक नाराज

हाल ही में गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल की नाराजगी की खबरों के बाद वडोदरा से विधायक योगेश पटेल ने कहा कि- 7वीं बार विधायक बनने के बाद भी कुछ न मिला.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात बीजेपी में अंदरूनी कलह, नितिन पटेल के बाद एक और विधायक नाराज

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: बीजेपी की गुजरात विधानसभा चुनाव में जीत के बाद अब बीजेपी नेताओं की मंत्रालयों को पाने के लिए अंदरूनी कलह की खबरें रुक-रुक के मीडिया में आ रहीं हैं. हाल ही में गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल की नाराजगी की खबरों के बाद वडोदरा से विधायक योगेश पटेल ने भी कहा कि- 7वीं बार विधायक बनने के बाद भी कुछ न मिला. मंत्रियों की नाराजगी जताती हैं कि कहीं न कहीं पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं है. अब एक बार फिर बीजेपी के एक और बड़े नेता ने इसी के चलते सरकार से अपनी नाराजगी जाहिर की है.

यह भी पढ़ें : नितिन पटेल को मनाने के लिए दिया जाएगा वित्त मंत्रालय, अमित शाह से बातचीत के बाद संभाला कामकाज

खबर है कि गुजरात में बीजेपी के एक और बड़े नेता पुरुषोत्तम सोलंकी सरकार से नाराज हैं. पांच बार विधायक सोलंकी भावनगर ग्राम से इस बार जीत कर आए हैं और उन्हें मत्स्य मंत्रालय दिया गया है. इस पर उनका कहना है कि जब नितिन पटेल को मनमाना मंत्रालय मिल सकता है तो मुझे क्यों नही मिल सकता. मत्स्य मंत्रालय से मेरा काम सिर्फ तटीय इलाकों तक ही सीमित रहेगा.

उन्होंने कहा कि कोली समाज मेरे साथ हुए इस व्यवहार से खुश नहीं हैं और अगर ऐसा ही रहा तो समाज के लोग पार्टी से नाराज भी हो सकते हैं. आगे उन्होंने कहा कि जब मुख्यमंत्री विजय रुपाणी खुद एक साथ 12 मंत्रालय संभाल सकते हैं तो में एक से ज्यादा क्यों नहीं.

इससे पहले गुजरात में बीजेपी ने उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल को मनाने के लिए उनको मनचाहा वित्त मंत्रालय देने का फैसला किया था. पहले वित्‍त मंत्रालय सौरभ पटेल को को दिया गया था, लेकिन इससे नितिन पटेल नाराज हो गए थे. उन्होंने इसे आत्मसम्मान ठेस बताया था और सरकार का कामकाज संभालने से इनकार कर दिया था. लेकिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से बातचीत करने के बाद वह मान गए और उनको वित्त मंत्रालय देने का वादा किया गया. 

टिप्पणियां
VIDEO : मान गए नितिन पटेल, कार्यभार संभाला​


बता दें कि वित्त मंत्रालय पिछली आनंदीबेन पटेल और विजय रुपाणी की सरकार में नितिन पटेल के पास ही था. पिछली बार वित्त, शहरी विकास, उद्योग और राजस्व जैसे दमदार मंत्रालयों चलाने वाले नितिन पटेल को इस बार कम अहमियत वाले स्वास्थ्य, सड़क-भवन जैसे मंत्रालय मिले हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement