जब मैं कांग्रेस कार्य समिति का सदस्य था, तब भी धारा 370 हटाए जाने के पक्ष में था: सिंधिया

भारतीय जनता पार्टी के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को कहा कि जब वह कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य थे, तब भी वे जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के पक्ष में थे.

जब मैं कांग्रेस कार्य समिति का सदस्य था, तब भी धारा 370 हटाए जाने के पक्ष में था: सिंधिया

बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (फाइल फोटो).

भोपाल :

भारतीय जनता पार्टी के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को कहा कि जब वह कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य थे, तब भी वे जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के पक्ष में थे. सिंधिया ने मध्य प्रदेश के आगर मालवा में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुच्छेद 370 को निरस्त कर दिया, कोई दूसरा ऐसा करने के बारे में सोच भी नहीं सकता था. कुछ लोग पूछ सकते हैं कि मैं यह सब अभी क्यों कह रहा हूं. मैं आप सभी को सूचित करना चाहता हूं कि जब मैं कांग्रेस कार्य समिति का सदस्य था, तब भी मैं धारा 370 हटाए जाने के पक्ष में था.''

यह भी पढ़ें: MP उपचुनाव : कमलनाथ-दिग्विजय की मौजूदगी में कांग्रेस का 'वचन पत्र' जारी, सरकार आने पर होंगे ये काम

उन्होंने आगे रैली में लोगों से अपने और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जिक्र करते हुए 'शिव-ज्योति एक्सप्रेस' को अपना वोट देने के लिए कहा. सिंधिया ने कहा, "1980 में, मोतीलाल वोहरा और मेरे पिता एक जोड़ी थे. लोग उन्हें मोती-माधव एक्सप्रेस कहते थे. आज, आपके सामने एक और जोड़ी है- शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया. अगर आप इस जोड़ी पर विश्वास करते हैं, तो इस जोड़ी को वोट दें. इस शिव-ज्योति एक्सप्रेस को आशीर्वाद दें. हम आपके विकास और प्रगति के लिए काम करेंगे. यह चुनाव कमल के प्रतीक या हाथ के प्रतीक के बारे में नहीं है. यह आपके विश्वास, आपके सम्मान और आपके स्वाभिमान के बारे में है. शिव-ज्योति एक्सप्रेस को वोट करें. ”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बाद में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, "मुझे पूरा विश्वास है कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह, जिन्होंने इस राज्य के 7.3 करोड़ लोगों को धोखा दिया है, को सभी 28 सीटों पर सबक सिखाया जाएगा."

कमलनाथ ने की अभद्र टिप्पणी, BJP ने चुनाव आयोग से की शिकायत