NDTV Khabar

जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटकर पूछ लिया- 1 करोड़ रुपये कैश में निकाल कर कोई क्या करेगा

निर्मला सीतारमण ने कहा कि वह किसी के 1 करोड़ रुपये के खिलाफ  1 करोड़ रुपये कैश निकालकर क्या करोगी मुझे समझ नहीं आ रहा है. हम आपके 1 करोड़ के खिलाफ नही हैं, आपके कैश के निकासी के खिलाफ हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटकर पूछ लिया- 1 करोड़ रुपये कैश में निकाल कर कोई क्या करेगा

खास बातें

  1. बजट को 10 साल आगे ध्यान में रखकर तैयार किया गया
  2. 'बजट में मध्यम वर्ग को उनके कठिन परिश्रम का फल मिलेगा'
  3. 'यह सही अर्थों में उम्मीद और सशक्तिकरण का बजट है'
नई दिल्ली:

बजट पेश करने के बाद  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण  ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को सवालों के जवाब दिए. उनसे पूछा गया कि सरकार इतने बड़े बहुमत के साथ आई है लेकिन मीडिल क्लास के उम्मीदों को दरकिनार करते हुए 1 करोड़ रुपये बैंक से निकालने पर 2 फीसदी का टीडीएस लगा दिया साथ ही पेट्रोल-डीजल पर भी एक्साइज ड्यूटी को बढ़ा दिया है. इस पर वित्त मंत्री ने उल्टा सवाल पूछ लिया कि आप 1 करोड़ रुपये कैश निकालकर कोई क्या करेगा.. मुझे समझ नहीं आ रहा है. इसके आगे उन्होंने कहा कि वह किसी के 1 करोड़ रुपये के खिलाफ  1 करोड़ रुपये कैश निकालकर क्या करोगी मुझे समझ नहीं आ रहा है. हम आपके 1 करोड़ के खिलाफ नही हैं, आपके कैश के निकासी के खिलाफ हैं आप इलेक्ट्रॉनिक लेन-देन करिए उस पर कोई चार्ज नहीं लगेगा. निर्मला सीतारमण ने कहा कि बजट को 10 साल आगे ध्यान में रखकर तैयार किया गया है. स्टार्ट अप को बड़ी मात्रा में छूट दी गई है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केंद्रीय बजट को ‘‘देश को समृद्ध और जन-जन को समर्थ'' बनाने वाला करार दिया और कहा कि इस बजट में आर्थिक सुधार, नागरिकों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के साथ गांव एवं गरीब का कल्याण भी है. 

देश के विकास का 'पावरहाउस' बनेगा गरीब... PM मोदी ने बजट पर कही ये 10 खास बातें


वहीं बीजेपी गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में शुक्रवार को पेश आम बजट को ‘‘नये भारत'' को साकार करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच को परिलक्षित करने वाला बजट करार दिया. उन्होंने कहा कि यह ‘‘किसानों को समृद्ध और गरीब को सम्मानपूर्ण जीवन'' व्यतीत करने में सहायक होगा. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लोकसभा में आम बजट प्रस्ताव पेश किये जाने के बाद गृह मंत्री ने अपनी पहली प्रतिक्रिया में कहा,‘‘ बजट में मध्यम वर्ग को उनके कठिन परिश्रम का फल और भारतीय उद्यमियों को मजबूती मिलेगी. यह सही अर्थो में उम्मीद और सशक्तिकरण का बजट है. '' शाह ने कहा कि वित्त मंत्री ने नये भारत के निर्माण के लिये बजट पेश किया है जो ‘‘समावेशी और प्रगतिशील राष्ट्र की बुनियाद रखने वाला है''

Budget 2019: गांव, गरीब और किसान को क्या मिला? इंडस्‍ट्रीज, रेलवे को सरकार ने क्‍या दिया?

वहीं केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि उनकी सरकार ने पहले ही अर्थव्यवस्था को दोगुना कर दिया है. हमें विश्वास के हम 5 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएंगे.

टिप्पणियां

निर्मला सीतारमण ने पढ़ी चाणक्य नीति की यह पंक्ति, तालियों से गूंज उठा सदन​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement