NDTV Khabar

VIDEO: जब दिल्ली की सड़कों पर अचानक बिना सुरक्षा रूट के निकले PM मोदी, लोगों को भी नहीं लगी भनक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 15 सितंबर यानी शनिवार को ‘स्वच्छता ही सेवा मिशन’ की शुरुआत की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
VIDEO: जब दिल्ली की सड़कों पर अचानक बिना सुरक्षा रूट के निकले PM मोदी, लोगों को भी नहीं लगी भनक

पीएम मोदी का काफिला...

खास बातें

  1. बिना किसी सिक्योरिटी रूट के निकले पीएम मोदी.
  2. ‘स्वच्छता ही सेवा मिशन’ की आज से शुरुआत.
  3. पीएम मोदी स्कूल में स्वच्छता श्रमदान देने गये थे.
नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 15 सितंबर यानी शनिवार को ‘स्वच्छता ही सेवा मिशन’ की शुरुआत की. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये लोगों से जुड़ने के बाद पीएम मोदी स्वच्छता श्रमदान के लिए निकले. जैसे ही पीएम मोदी का काफिला स्वच्छता श्रमदान के लिए दिल्ली के पहाड़गंज की ओर निकला, देखने वाले सभी हैरान रह गये. कारण कि पीएम नरेंद्र मोदी स्वच्छता श्रमदान के लिए बिना किसी सिक्योरिटी रूट के निकले थे. यानी जिस रूट से वह निकले,  उस पर पहले से सुरक्षा मानकों को पूरा नहीं किया गया था. 

Swachhata Hi Seva : पीएम मोदी बोले- आज से गांधी जयंती तक हमें बापू के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने में योगदान देना है

हालांकि, बताया जा रहा है कि पीएम मोदी के काफिला जब बिना सुरक्षा रूट से गुजरा तो ट्रैफिक व्यवस्था पर किसी तरह का कोई खासा असर नहीं दिखा. अच्छी बात यह रही कि पीएम मोदी के काफिले के लिए कहीं ट्रैफिक भी नहीं रोका गया और ट्रैफिक व्यवस्था अन्य दिनों की तरह सामान्य था. यानी सामान्य ट्रैफिक से पीएम मोदी का काफिला गुजरा.

टिप्पणियां
दरअसल, पीएम मोदी नई दिल्ली के पहाड़गंज इलाके में रानी झांसी रोड पर स्थित बाबा साहब अंबेडकर उच्च माध्यमिक विद्यालय के लिए निकले थे. बता दें कि इससे पहले पीए्म मोदी ने स्वच्छता ही सेवा मिशन की शुरुआत की और देश भर में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कई लोगों से जुड़े. ‘स्वच्छता ही सेवा मिशन’  की लॉन्चिंग के मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि आज से गांधी जयंती तक हम लोगों को बापू के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने के लिए योगदान करना है.  अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि आज से 2 अक्टूबर यानी गांधी जयंति तक हम बापू के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने की दिशा में अपने आप को समर्पित करते हैं. इससे पहले पीएम मोदी ने समाज के विभिन्न वर्गों के करीब 2000 लोगों को पत्र लिख कर इस सफाई अभियान का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित किया, ताकि इस अभियान को सफल बनाया जा सके. 

जब इंदौर में पीएम मोदी की सुरक्षा में तैनात पुलिस जवानों ने कुर्ता-पायजामा पहनकर की ड्यूटी...

प्रधानमंत्री ने ‘स्वच्छता ही सेवा’ पहल की शुरूआत करने और नरेन्द्र मोदी एप एवं वीडियो लिंक के माध्यम से स्वच्छाग्रहियों से संवाद करते हुए कहा, ‘कोई ये सोच सकता था कि भारत में चार वर्ष में करीब नौ करोड़ शौचालयों का निर्माण हो जाएगा? क्या किसी ने ये कल्पना की थी कि चार वर्ष में लगभग 4.5 लाख गांव खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे?’’ उन्होंने कहा कि क्या किसी ने कल्पना की थी कि चार वर्ष में 450 से ज्यादा जिले खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे? क्या किसी ने कल्पना की थी कि चार वर्ष में 20 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश खुले में शौच से मुक्त हो जाएंगे? उन्होंने कहा कि पिछले चार वर्ष में स्वच्छता के क्षेत्र में उतनी प्रगति हुई है जितनी 60...65 वर्ष में भी नहीं हुई थी. 

पीएम मोदी ने कहा, ‘‘ यह भारत और भारतवासियों की ताकत है. यह लोगों के योगदान से हो पाया है.’ इस दौरान प्रधानमंत्री ने आम लोगों के साथ ही अभिनेता अमिताभ बच्चन , उद्योगपति रतन टाटा, आध्यात्मिक गुरु सद्गुरु, श्री श्री रविशंकर, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement