WHO की रिपोर्ट : दुनिया के 20 सबसे प्रदूषित शहरों में से 14 भारत के

भारत दुनिया का सबसे प्रदूषित देश, हर साल 20 लाख से ज़्यादा लोग प्रदूषित हवा की वजह से मर जाते हैं

WHO की रिपोर्ट : दुनिया के 20 सबसे प्रदूषित शहरों में से 14 भारत के

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  • दुनिया में प्रदूषित हवा से होने वाली हर 4 मौतों में से एक भारत में
  • दिल्ली भारत का सबसे प्रदूषित शहर
  • प्रदूषण में कानपुर दूसरे और गुरुग्राम तीसरे नंबर पर
नई दिल्ली:

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने प्रदूषण पर अपनी ताज़ा ग्लोबल रिपोर्ट में आगाह किया है कि दुनिया के 20 सबसे प्रदूषित शहरों में से 14 भारत में हैं. भारत दुनिया का सबसे प्रदूषित देश है जहां हर साल 20 लाख से ज़्यादा लोग प्रदूषित हवा की वजह से मरते हैं. ये तादाद दुनिया में सबसे ज़्यादा है.

एनडीएमसी कर्मचारी अरमेंद्र कई साल से दिल्ली के सबसे बड़े कचरा भंडार भलस्वा लैंडफिल पर काम कर रहे हैं. यहां अक्सर आग लगती रहती है. ज़हरीली गैस का रिसाव होता रहता है. सांस लेने में दिक्कत आती है. सेहत बिगड़ रही है.

यह भी पढ़ें : NDTV Exclusive : ग्रीन पटाखा तैयार, परम्परागत आतिशबाजी की तरह ही देगा आनंद

अब WHO ने प्रदूषण पर अपनी ताज़ा रिपोर्ट 2018 ग्लोबल डाटाबेस में आम लोगों को इस बढ़ते खतरे से आगाह किया है. हर साल भारत में 20 लाख से ज़्यादा लोग प्रदूषित हवा की वजह से मरते हैं. दुनिया में प्रदूषित हवा से होने वाली हर 4 मौतों में से एक भारत में रिकॉर्ड हो रही है. WHO रिपोर्ट में चौंकाने वाली बात ये है कि दुनिया के 20 सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में 14 भारत के हैं. दिल्ली भारत का सबसे प्रदूषित शहर है जबकि कानपुर दूसरे और गुरुग्राम तीसरे नंबर पर है.

VIDEO : प्रदूषण से हर साल 20 लाख मौतें

जब हम दिल्ली के सबसे प्रदूषित इलाकों में से एक श्रद्धानंद कालोनी पहुंचे तो वहां के लोगों की शिकायतों की सूची लंबी थी. भलस्वा लैंडफिल से सटी इस कॉलोनी में साल भर ज़हरीली गैस रिसती रहती है. दिल्ली से बाहर दूसरे शहरों का हाल और बुरा है. वहां प्रदूषण से निबटने की कोई योजना तक नहीं है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com