दुनिया को कोरोना संकट से बाहर निकालने में मदद करने का PM मोदी ने किया वादा, WHO ने की तारीफ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में कहा था कि महामारी के इस मुश्किल समय में भी भारत के फार्मा उद्योग ने 150 से अधिक देशों को जरूरी दवाइयां भेजीं हैं

दुनिया को कोरोना संकट से बाहर निकालने में मदद करने का PM मोदी ने किया वादा, WHO ने की तारीफ

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने पीएम मोदी के आश्वासन पर प्रशांसा जताई

न्यूयॉर्क:

दुनिया भर के अधिकांश देश कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी से जूझ रहे हैं. भारत समेत विभिन्न देश कोरोना से मुकाबले के लिए वैक्सीन बनाने में लगे हुए हैं. इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने COVID-19 वैक्सीन (COVID-19 Vaccine) को लेकर पूरे विश्व को जो आश्वासन दिया है, उसकी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने तारीफ की है. डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अदानोम गेब्रिएसस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आश्वासन की तारीफ की है. प्रधानमंत्री ने आश्वासन दिया है कि भारत कोविड-19 से लड़ रहे देशों की मदद के लिए अपनी टीका उत्पादन क्षमता का इस्तेमाल करेगा. गेब्रिएसस ने कहा कि इस महामारी को केवल संसाधनों के आदान-प्रदान के जरिए ही हराया जा सकता है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में कहा था कि महामारी के इस मुश्किल समय में भी भारत के फार्मा उद्योग ने 150 से अधिक देशों को जरूरी दवाइयां भेजीं हैं. पीएम मोदी ने कहा, ''विश्व के सबसे बड़े वैक्सीन उत्पादक देश के तौर पर आज मैं वैश्विक समुदाय को एक और आश्वासन देना चाहता हूं. भारत की वैक्सीन उत्पादन और वैक्सीन आपूर्ति क्षमता पूरी मानवता को इस संकट से बाहर निकालने के लिए काम आएगी.''

प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्व के सब से बड़े लोकतंत्र होने की प्रतिष्ठा और इसके अनुभव को हम विश्व हित के लिए उपयोग करेंगे. हमारा मार्ग जनकल्याण से जगकल्याण का है. भारत की आवाज़ हमेशा शांति, सुरक्षा, और समृद्धि के लिए उठेगी. 

वीडियो: भारत की वैक्सीन प्रोडक्शन और वैक्सीन डिलीवरी क्षमता पूरी दुनिया के काम आएगी: पीएम मोदी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com