Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

बंगाल बीजेपी का विवादित बयान - 'जय श्री राम' उद्घोष का विरोध करने वाला इतिहास हो जाएगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बंगाल बीजेपी का विवादित बयान - 'जय श्री राम' उद्घोष का विरोध करने वाला इतिहास हो जाएगा

बंगाल बीजेपी नेता दिलीप घोष.

खास बातें

  1. देश भर में भारतीय जनता पार्टी की मौजूदगी की ओर इशारा
  2. राज्य में भाजपा के कार्यकर्ता के साथ कोई जबरदस्ती नहीं चलेगी
  3. तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों से आग्रह किया कि वे अपनी 'बुरी आदतें' बदल लें
कोलकाता:

देश भर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मौजूदगी की ओर इशारा करते हुए पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शनिवार को कहा कि 'भारत माता की जय' तथा 'जय श्री राम' के उद्घोष का विरोध करने वाला कोई भी व्यक्ति इतिहास हो जाएगा. घोष ने कहा, "देश भर के लोग, गुजरात से गुवाहाटी, कश्मीर से कन्याकुमारी 'भारत माता की जय' तथा 'जय श्री राम' के नारे लगाएंगे. जो कोई भी इसका विरोध करेगा, वह इतिहास हो जाएगा."

चेतावनी देते हुए कि राज्य में भाजपा के कार्यकर्ता के साथ कोई जबरदस्ती नहीं चलेगी, घोष ने सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों से आग्रह किया कि वे अपनी 'बुरी आदतें' बदल लें.

उन्होंने कहा, "भारत भर में भाजपा के 11 करोड़ सदस्य हैं. मैं तृणमूल कांग्रेस के अपने भाइयों से आग्रह करता हूं कि वे अपनी बुरी आदतें बदल लें, वर्ना हम उन्हें पूरी तरह बदल देंगे." वहीं, घोष की टिप्पणी को नफरत भरा तथा भड़काऊ करार देते हुए तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा कि समृद्ध विरासत वाली भाजपा जैसी पार्टी के किसी नेता के मुंह से इस तरह की टिप्पणी अप्रत्याशित है.

टिप्पणियां

चटर्जी ने पलटवार करते हुए कहा, "वह इस तरह की नफरत भरी टिप्पणी सत्ता के लोभ में तथा लोगों को भड़काने के लिए कर रहे हैं. यह दुखद है कि एक राजनीतिक पार्टी जिससे श्यामा प्रसाद मुखर्जी जैसे नेता जुड़े रहे हैं, उसके पास राज्य में ऐसे लोगों का चेहरा है." उन्होंने कहा कि देश भाजपा के सपने को चूर-चूर कर देगा, क्योंकि वे धर्म के नाम पर लोगों को भड़काने का प्रयास कर रहे हैं.


तृणमूल कांग्रेस के नेता ने कहा, "भले ही उनके पास 11 करोड़ सदस्य हैं, लेकिन उनकी योजना को 130 करोड़ भारतीय विफल कर देंगे." उन्होंने कहा, "वे धर्म के नाम पर लोगों को भड़काने का प्रयास कर रहे हैं. लेकिन यह बंगाल की संस्कृति नहीं है. यह मायने नहीं रखता है कि वे क्या करते हैं, लोगों का समर्थन हमेशा ममता के साथ है."



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... कौन था औरंगजेब का भाई दारा शिकोह, जिसकी दिल्ली में कब्र खोज रही है मोदी सरकार?

Advertisement