NDTV Khabar

बिहार उपचुनाव में तीन सीटें हारने के बाद भी क्यों 'मुस्कुरा' रहे हैं नीतीश कुमार

बिहार में जिन पांच विधानसभा और एक लोकसभा सीट पर उपचुनाव के परिणाम आए, उसमें सबसे ज़्यादा घाटे में नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) रही और राष्ट्रीय जनता दल को दो सीटों का लाभ हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार उपचुनाव में तीन सीटें हारने के बाद भी क्यों 'मुस्कुरा' रहे हैं नीतीश कुमार

इन उपचुनाव में सबसे ज़्यादा घाटे में नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड में है

खास बातें

  1. बिहार में उपचुनाव में जेडीयू को नुकसान
  2. RJD ने जीती दो सीटें
  3. RJD खेमे में खुशी का माहौल
पटना:

बिहार में जिन पांच विधानसभा और एक लोकसभा सीट पर उपचुनाव के परिणाम आए, उसमें सबसे ज़्यादा घाटे में नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) रही और राष्ट्रीय जनता दल को दो सीटों का लाभ हुआ, लेकिन JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मुस्कुराते दिखे. उनका कहना था, लोकतंत्र में जनता मालिक है और उसका फैसला उन्हें स्वीकार है. इसके बाद उन्हें अपनी मुस्कुराहट की वजह स्पष्ट करते हुए यह भी कहा कि हम जब भी उपचुनाव में हारे हैं, उसके बाद होने वाले आम चुनाव में जीतते रहे हैं.

बिहार विधानसभा उपचुनावों नतीजों के बाद तेजस्वी यादव ने कहा- एनडीए को सबक सिखाने के लिए...

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि उनके कार्यकाल के दौरान का रिकॉर्ड देखा जाना चाहिए, क्योंकि जब हम उपचुनाव में हारे हैं, तो उसके बाद हुए चुनाव में हमेशा हमारी बड़ी जीत हुई है. इन उपचुनावों में नीतीश कुमार की पार्टी ने चार विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार उतारा था, जिनमें से नाथनगर को छोड़कर उनकी पार्टी बाकी तीनों सीटें - दरौंदा, सिमरी बख्तियारपुर और बेलगर - हार गई. बेलहर और सिमरी बख्तियारपुर में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के उम्मीदवार जीते, जबकि दरौंदा में उनकी पार्टी के उम्मीदवार अजय सिंह की हार एक निर्दलीय प्रत्याशी ब्यास सिंह के हाथों हुई. यह बात दीगर है कि ब्यास सिंह को BJP और JDU के अधिकांश स्थानीय नेताओं का समर्थन प्राप्त था.


NDA को लगा झटका, तो RJD फायदे में, देखें- सभी सीटों के नतीजे 

दूसरी ओर, उपचुनाव में जीत के बाद RJD खेमे में खुशी का माहौल है. RJD के नेताओं का मानना है कि इन नतीजों से पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के छोटे पुत्र तेजस्वी यादव की नेतृत्व क्षमता पर खड़े किए जा रहे सवालों पर विराम लग जाएगा, और पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं में भगदड़ की नौबत भी नहीं आएगी.

टिप्पणियां

हरियाणा में बीजेपी सरकार बनने के आसार, निर्दलीय विधायक देंगे साथ​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement