NDTV Khabar

नहीं रहा बिगड़ैल हाथी 'बिन लादेन', 6 दिन से था वन विभाग की कैद में

म तौर पर छह से सात साल के बीच के हाथियों को कैद में रखा जाता है. लादेन उर्फ ​​कृष्णा की उम्र 35 साल थी, जिसे हिरासत में रखने के फैसले किया गया था. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नहीं रहा बिगड़ैल हाथी 'बिन लादेन', 6 दिन से था वन विभाग की कैद में

रविवार सुबह करीब 5:30 बजे 'बिन लादेन' की मौत हो गई.

गुवाहाटी:

पश्चिमी असम में गोलपारा जिले के रोंगजुली से पकड़े गए जंगली बिगड़ैल हाथी 'बिन लादेन' की रविवार को मौत हो गई. वन विभाग के अधिकारियों ने उसे शांत करने के लिए 11 नवंबर को ट्रैंकुलाइज करने के बाद पकड़ लिया था और 12 नवंबर को उसे ओरांग नेशनल पार्क भेज दिया गया था. नेशनल पार्क के एक वरिष्ठ अधिकारी कहा, ''वह ठीक था लेकिन  रखवाले ने बताया कि आज (रविवार) सुबह साढ़े पांच बजे उसकी मौत हो गई.''

हाथी ने हवा में उछलकर ऐसे तोड़ा पेड़ से कटहल, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ VIDEO

35 वर्षीय इस हाथी का नाम स्थानीय लोगों ने अल कायदा के प्रमुख ओसामा बिन लादेन के नाम पर बिन लादेन रखा था. हालांकि पकड़े जाने के बाद इसका नाम 'कृष्णा' कर दिया गया. वह  6 दिन कैद में रहा. असम सरकार ने पहले ही केके सरमा समेत विशेषज्ञ पशु चिकित्सकों की एक टीम भेज दी थी. सरमा पोस्टमार्टम कर हाथी की मौत का कारण पता लगाएंगे. 


सूटी निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा विधायक पद्मा हजारिका के नेतृत्व में एक दल ने इस बिगड़ैल हाथी को शांत किया था. टीम में वन अधिकारी और पशु चिकित्सक शामिल थे, जिन्होंने हाथी को शांत करने में सहायता की थी. 

टिप्पणियां

बीच सड़क चलती कार के ऊपर बैठ गया हाथी, घबराकर ड्राइवर ने किया ऐसा... देखें VIDEO

हालांकि वन विभाग ने पहले जंगल में हाथी को छोड़ने की योजना बनाई थी लेकिन बाद में इसे रिहा करने के खिलाफ कड़े विरोध को देखते हुए कैद में रखने का फैसला करना पड़ा.  लोग आशंकित थे कि हाथी फिर से मानव बस्तियों पर हमला कर सकता है. बता दें आम तौर पर छह से सात साल के बीच के हाथियों को कैद में रखा जाता है. लादेन उर्फ ​​कृष्णा की उम्र 35 साल थी, जिसे हिरासत में रखने के फैसले किया गया था. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement