NDTV Khabar

संसद में नहीं आएगा कच्ची कॉलोनी का बिल? संजय सिंह बोले - बीजेपी की धोखेबाजी सामने आई

दावा- संसद के शीतकालीन सत्र में दिल्ली की अनाधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने के लिए मोदी सरकार बिल नहीं लाएगी?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
संसद में नहीं आएगा कच्ची कॉलोनी का बिल? संजय सिंह बोले - बीजेपी की धोखेबाजी सामने आई

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. संजय सिंह ने संसदीय कार्य मंत्रालय का एक दस्तावेज साझा किया
  2. दस्तावेज में दोनों सदनों में पेश होने वाले सभी बिलों की जानकारी
  3. लिस्ट में दिल्ली की कच्ची कॉलोनियों को नियमित करने की बात नहीं
नई दिल्ली:

सोमवार 18 नवंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में दिल्ली की कच्ची कॉलोनियों को पक्का करने के लिए यानी अनाधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने के लिए मोदी सरकार बिल नहीं लाएगी? दिल्ली से आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने यह दावा किया है. संजय सिंह ने एक ट्वीट कर कहा 'भाजपा सरकार का झूठ पकड़ा गया धोखेबाजी सामने आ गई. देखिए ये है संसद सत्र में आने वाले बिल की सूची. दिल्ली वाले भाइयो देख लीजिए इसमें अनाधिकृति कालोनियों को पक्का करने का कोई बिल नहीं. धोखा नहीं रजिस्ट्री दो.'

अपने ट्वीट में आप सांसद संजय सिंह ने संसदीय कार्य मंत्रालय का एक दस्तावेज डाला है जिसमें आगामी संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा और राज्यसभा में पेश होने वाले सभी बिलों की जानकारी है. इस दस्तावेज के मुताबिक संसद के शीतकालीन सत्र में मोदी सरकार 27 बिल संसद में पेश करके, चर्चा कराकर पास कराने की मंशा रखती है जबकि कुल 12 बिल जो पहले ही पेश किए जा चुके हैं और लोकसभा या राज्यसभा में अटके हुए हैं. लेकिन इस लिस्ट में कहीं पर भी दिल्ली की अनाधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने संबंधी बात नहीं लिखी गई है.

आपको बता दें बीते महीने 23 अक्टूबर को केंद्रीय कैबिनेट ने दिल्ली की अनाधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले 40 लाख लोगों को उनके मकान का मालिकाना हक दिलवाने के लिए प्रस्ताव पास किया था. 29 अक्टूबर को इस बारे में गजट नोटिफिकेशन भी जारी किया जा चुका है. मोदी सरकार और बीजेपी लगातार यह दावा कर रहे हैं की संसद के शीतकालीन सत्र में बिल लाकर लोगों को मालिकाना हक़ दिलवाया जाएगा. दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी तो यहां तक कह चुके हैं कि संसद के शीतकालीन सत्र में बिल पास करा कर नवंबर महीने से अनाधिकृत कॉलोनियों में रजिस्ट्री भी शुरू हो जाएगी.


टिप्पणियां

कॉलोनी नियमित करने के लिए जारी हो चुका नोटिफ़िकेशन
दिल्ली में अनाधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से गजट नोटिफिकेशन जारी किया जा चुका है. नोटिफिकेशन के मुताबिक दिल्ली की 1731 अनाधिकृत कॉलोनियां नियमित की जाएंगी. जबकि 69 ऐसी कॉलोनियां हैं जो प्रभावशाली और रसूखदार लोगों की मानी गई हैं. इनको सरकार ने नियमित न करने की सूची में डाला है. कॉलोनी नियमित करने के लिए नोडल एजेंसी डीडीए को बनाया गया है.

डीडीए ने काम शुरू किया
दिल्ली विकास प्राधिकरण यानी डीडीए ने कॉलोनी नियमित करने के लिए काम शुरू कर दिया है. फिलहाल डीडीए ने अपनी वेबसाइट पर 20 कॉलोनियों के बाउंड्री मैप डाले हैं. कॉलोनियों के RWA आदि से कहा गया है कि वह अपनी कॉलोनियों के बाउंड्री मैप देखकर अपनी आपत्ति, सुझाव, मांग आदि को वेब पोर्टल पर दस्तावेज समेत दर्ज कराएं जिससे अगर कहीं कोई गलती हुई हो तो उसको सुधारा जा सके.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement