Budget
Hindi news home page

खुफिया सूचना नहीं रहती तो पठानकोट हमला और गंभीर होता : राजनाथ सिंह

ईमेल करें
टिप्पणियां
खुफिया सूचना नहीं रहती तो पठानकोट हमला और गंभीर होता : राजनाथ सिंह
नई दिल्ली / पठानकोट: पठानकोट में एयरफोर्स बेस पर आतंकी हमले के बारे में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि अगर खुफिया सूचना नहीं होती तो आतंकवादी हमले का प्रभाव और गंभीर होता। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, अगर खुफिया सूचना नहीं होती तो हमला और गंभीर हो सकता था। वह पठानकोट में वायुसेना के स्टेशन पर पाकिस्तान के संदिग्ध आतंकवादियों के हमले से जुड़े एक सवाल का जवाब दे रहे थे।

पंजाब में छह महीने के अंदर दूसरा आतंकी हमला होने के बाद राज्य के उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने पाकिस्तान के साथ लगी राज्य की सीमा पर और अधिक बीएसएफ जवानों को तैनात करने की मांग की और कहा कि राज्य पुलिस भविष्य में इस तरह के हमलों को रोकने के लिए 'सुरक्षा की दूसरी पंक्ति' तैयार करेगी।

बादल ने पठानकोट में संवाददाताओं से कहा, हम भारत सरकार को पत्र लिखकर अनुरोध कर रहे हैं कि जम्मू-कश्मीर से लगी सीमा की तरह पंजाब में भी बीएसएफ की तैनाती बढ़ाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा, कम से कम इस इलाके में (गुरदासपुर और पठानकोट में) बीएसएफ की तैनाती बढ़ाई जानी चाहिए, क्योंकि दूसरी या तीसरी बार इस तरह की घटना घटी है।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य पुलिस सुरक्षा की दूसरी पंक्ति तैयार करने के लिए 'मास्टर प्लान' तैयार करेगी। बादल ने पठानकोट में आतंकी हमलों के मद्देनजर वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक भी की।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement