तमिलनाडु में महिला बनी एंबुलेंस की ड्राइवर, सरकार ने कहा - देश में पहली बार हुआ ऐसा

तमिलनाडु में एंबुलेंस ड्राइवर के तौर पर एक महिला की नियुक्ति की गयी. राज्य सरकार ने दावा किया है कि देश में पहली बार एंबुलेंस ड्राइवर के तौर पर महिला की नियुक्ति हुई है.

तमिलनाडु में महिला बनी एंबुलेंस की ड्राइवर, सरकार ने कहा - देश में पहली बार हुआ ऐसा

प्रतीकात्मक तस्वीर

तमिलनाडु में एंबुलेंस ड्राइवर के तौर पर एक महिला की नियुक्ति की गयी. राज्य सरकार ने दावा किया है कि देश में पहली बार एंबुलेंस ड्राइवर के तौर पर महिला की नियुक्ति हुई है. मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने राज्य में आपात सेवा को मजबूत बनाने की कवायद के तहत 118 एंबुलेंस को रवाना किया. एक सरकारी विज्ञप्ति में कहा गया कि एम वीरालक्ष्मी को ‘डायल 108 एंबुलेंस सेवा' का ड्राइवर नियुक्त किया गया और देश में एंबुलेंस ड्राइवर के तौर पर महिला की ‘पहली' नियुक्ति है.

दिल्ली सरकार का आदेश, ट्यूशन फीस के अलावा अन्य कोई फीस न चार्ज करें प्राइवेट स्कूल

विज्ञप्ति में बताया गया कि 90 एंबुलेंस में जीवन रक्षक चिकित्सा उपकरण लगाए गए हैं तथा 10 अत्याधुनिक वाहनों का इस्तेमाल कैंपों से संग्रहित खून को रक्त बैंक तक पहुंचाने में होगा. एक मनोरंजन चैनल समूह ने कोविड-19 से जुड़े कार्यों के लिए 18 एंबुलेंस दान दिया है.

Newsbeep

केंद्र ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर की 7 दिन के राजकीय शोक की घोषणा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पलानीस्वामी ने 24 मार्च को विधानसभा में घोषणा की थी कि एंबुलेंस आपात सेवा-108 को मजबूत किया जाएगा और 125 करोड़ रुपये की लागत से 500 नए एंबुलेंस खरीदे जाएंगे. इसके तहत पहले चरण में 20.65 करोड़ रुपये और 3.09 करोड़ रुपये की लागत से क्रमश: 90 एंबुलेंस और 10 रक्त संग्रह वाहन खरीदे गए हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)