NDTV Khabar

गोवा : 20 सालों से एक ही कमरे में सीमित महिला को पुलिस ने बचाया, हालत बेहद गंभीर

गोवा में एक 40 वर्षीय महिला को लगभग 20 सालों तक एक ही कमरे में सीमित कर दिया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गोवा : 20 सालों से एक ही कमरे में सीमित महिला को पुलिस ने बचाया, हालत बेहद गंभीर

प्रतीकात्मक इमेज

खास बातें

  1. 20 सालों से एक ही कमरे में सीमित महिला को पुलिस ने बचाया
  2. महिला को इसकी मां और भाई ने अवैध रूप से कमरे में रखा था
  3. सूचना के बाद पुलिस ने महिला को बचाया
पणजी: गोवा से एक चौंकाने वाली खबर आई है. यहां एक 40 वर्षीय महिला को लगभग 20 सालों तक एक ही कमरे में सीमित कर दिया गया था. इस महिला को इसकी मां और भाई ने अवैध रूप से इस कमरे में सीमित किया था. यह घटना उत्तरी गोवा को संक्वेलीम गांव की है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सूचना के बाद पुलिस और जिला लीगल सर्विस अथॉरिटी के स्वयंसेवकों ने मंगलवार को उस महिला को वहां से बाहर निकाला. बताया जा रहा है कि महिला की हालत बहुत ही खराब है और वह काफी दुर्बल दिख रही है.

यह भी पढ़ें: परिवार वालों ने 20 साल से अंधेरे कमरे में 'बंद' कर रखा था महिला को, पुलिस ने रिहा करवाया

महिला का इलाज अब उत्तरी गोवा के असिलो जिला अस्पताल में चल रहा है. महिला के एक कजिन ने इस बारे में एक रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस ने इस महिला को बचाया. महिला जब कॉलेज में पढती थी, तभी से लेकर अब तक वह एक कमरे तक सीमित थी. 

यह भी पढ़ें: उपहार कांड के बीस साल : पीड़ितों ने की इसाफ की कामना, गोपाल अंसल ने लगाई दया याचिका

टिप्पणियां
इस संबंध में बिचोलिम पुलिस स्टेशन के प्रभारी संजय दलवी ने संवाददाताओं से कहा, "अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है, क्योंकि उसे स्वास्थ्य सुविधा दी जा रही हैं. महिला की हालत में सुधार के बाद ही उसके बयान को दर्ज किया जाएगा.” 

VIDEO: नाइजीरिया के छात्रों की बेरहमी से पिटाई, सुषमा ने की योगी से बात
पिछले साल सितंबर में एक महिला को उसके मातृ घर में एक कमरे से बचाया गया था, जहां उसे उसके दो भाइयों और उनकी पत्नियों ने एक ही कमरे में सीमित कर दिया था. यह घटना पणजी से से 20 किमी दूर कैनोडोलिम में घटी थी. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement