NDTV Khabar

लापता सुखोई-30 जेट का मलबा चीनी बॉर्डर के पास मिला, वायुसेना ने दिया कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश

सुखोई -30 लड़ाकू विमान का मलबा उसी जगह के पास से मिला है जहां से उसका आखिरी बार संपर्क टूटा था. अभी वहां मौसम बहुत खराब है .

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लापता सुखोई-30 जेट का मलबा चीनी बॉर्डर के पास मिला, वायुसेना ने दिया कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश

फाइल फोटो

खास बातें

  1. असम के तेजपुर के पास से रडार संपर्क टूटने के बाद लापता हुआ था
  2. चीन की सीमा से करीब 250 किमी की दूरी पर हुआ था लापता
  3. वायुसेना की अग्रिम पंक्ति का लड़ाकू विमान है सुखोई
भारतीय वायुसेना ने सुखोई जेट दुर्घटना मामले में कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया है. मंगलवार को असम के तेजपुर के पास से गायब हुए सुखोई-30 विमान का मलबा यहां से करीब 60 किमी दूर चीनी बॉर्डर के पास घने जंगलों में मिला है. विमान में दो सवार मौजूद थे.

उल्‍लेखनीय है कि मंगलवार को सुखोई-30 जेट का रडार से संपर्क टूट गया था. उसके बाद से वह विमान लापता था. सुखोई -30 लड़ाकू विमान का मलबा उसी जगह के पास से मिला है जहां से उसका आखिरी बार संपर्क टूटा था. अभी वहां मौसम बहुत खराब है . साथ ही घना जंगल भी है. इस वजह से परेशानी आ रही है.  

टिप्पणियां
आपको बता दें कि मंगलवार को असम के तेजपुर एयरबेस से दो सीटों वाले इस विमान ने सुबह 10.30  बजे उड़ान भरी थी लेकिन 11.10 बजे के बाद इसका रेडियो और रडार संपर्क टूट गया. इस विमान ने तेजपुर के 60 किलोमीटर उत्तर पश्चिम की उड़ान भरी थी और उसके बाद से ही लापता हो गया. यहां से चीन की सीमा करीब 200-250 किमी से कम दूरी पर है. सुखोई वायुसेना का अग्रिम पंक्ति का लड़ाकू विमान है. ऐसे करीब ढाई सौ लड़ाकू विमान वायुसेना में है.

(इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement