येस बैंक के संस्‍थापक की बेटी रोशनी कपूर को लंदन जाते वक्‍त मुंबई एयरपोर्ट पर रोका गया

येस बैंक संकट को लेकर जांच जारी है और राणा कपूर फिलहाल प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में हैं. सीबीआई ने भी देश के इस पांचवें सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक में हुई अनियमितताओं की जांच शुरू कर दी है.

येस बैंक के संस्‍थापक की बेटी रोशनी कपूर को लंदन जाते वक्‍त मुंबई एयरपोर्ट पर रोका गया

कोट ने राणा कपूर को 11 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय (ED) की हिरासत में भेज दिया है

खास बातें

  • 6 मार्च को येस बैंक पर RBI ने लगा दी थी पाबंदी
  • RBI ने निकासी की सीमा तय कर दी थी
  • रिजर्व बैंक ने यस बैंक के निदेशक मंडल को भी भंग कर दिया था
नई दिल्ली :

येस बैंक (Yes Bank) के संस्‍थापक राणा कपूर (Rana Kapoor) की बेटी रोशनी कपूर (Roshni Kapoor) को मुंबई एयरपोर्ट (Mumbai Airport) पर रोक लिया गया. वह लंदन जाने के लिए फ्लाइट लेने वाली थी. राणा कपूर के परिवार के सदस्यों के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी होने की वजह से रोशनी को एयरपोर्ट पर रोक लिया गया. रोशनी कपूर की कंपनी डीयूवीआईपीएल ईडी की जांच के रडार पर है. अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय एजेंसी द्वारा लुकआउट नोटिस जारी होने की वजह से रोशनी कपूर को मुंबई हवाई अड्डे पर लंदन जाने वाले विमान में सवार होने की अनुमति नहीं दी गई. लुक आउट नोटिस जारी होने पर आव्रजन प्राधिकार को यात्री को विदेश या देश के किसी हिस्से में जाने की अनुमति देने से पहले नोटिस जारी करने वाली एजेंसी को इसकी सूचना देनी होती है. अधिकारी ने बताया कि रोशनी लंदन की उड़ान लेने वाली थी. हालांकि, यात्रा के कारणों का तत्काल खुलासा नहीं हुआ है. अधिकारियों ने बताया कि आव्रजन प्राधिकार द्वारा रोके जाने के बाद रोशनी कपूर को ईडी की जांच में शामिल होने को कहा गया. उल्लेखनीय है कि रोशनी अपनी दो बहनों और मां के साथ कुछ कंपनियों की प्रवर्तक हैं जो ईडी की जांच के दायरे में है. आरोप है कि इन कंपनियों के जरिये धनशोधन किया गया और आपराधिक गतिविधि की गई.

ईडी ने दीवान हाउसिंग धन शोधन मामले में उनके पिता राणा कपूर को रविवार सुबह गिरफ्तार किया. येस बैंक संकट को लेकर जांच जारी है और राणा कपूर फिलहाल प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में हैं. सीबीआई ने भी देश के इस पांचवें सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक में हुई अनियमितताओं की जांच शुरू कर दी है.

दूसरी ओर धन शोधन मामले में गिरफ्तार यस बैंक (Yes Bank) के संस्थापक राणा कपूर (Rana Kapoor) को मुंबई की एक अदालत ने रविवार को 11 मार्च तक प्रवर्तन निदेशालय (ED) की हिरासत में भेज दिया. अधिकारियों ने कहा कि ED ने 62 वर्षीय कपूर को धन शोधन निरोधक अधिनियम (PMLA) के तहत रविवार तड़के करीब तीन बजे गिरफ्तार किया क्योंकि वह कथित तौर पर जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे. ED ने कपूर को यहां एक अवकाश अदालत के समक्ष पेश किया, जिसने उसे 11 मार्च तक जांच एजेंसी की हिरासत में भेजे जाने का आदेश दिया.

ED ने कहा कि कपूर के परिवार द्वारा संचालित कुछ कंपनियों की भूमिका स्थापित किए जाने और इन सभी लोगों का आरोपी से आमना-सामना कराए जाने की जरूरत है. बचाव पक्ष के वकील ने हालांकि कहा कि कपूर को ED ने चुनकर निशाना बनाया है, जबकि वह जांच एजेंसी से सहयोग कर रहे हैं. कपूर को निजी बैंक के संचालन में कथित वित्तीय अनियमितता और कुप्रबंधन के आरोपों के बाद गिरफ्तार किया गया था और भारतीय रिजर्व बैंक और केंद्र सरकार ने इसके कामकाज को नियंत्रित करने के लिए कदम उठाए हैं.

YES बैंक के खाताधारकों के लिए राहत भरी खबर
संकट में फंसे YES बैंक के खाताधारकों के लिए एक राहत भरी खबर आई है. खबर के अनुसार अब यस बैंक के खाताधारक बैंक के साथ-साथ अन्य बैंकों के ATM से भी कैस निकाल सकते हैं. इस बारे में यस बैंक ने एक ट्वीट कर जानकारी दी है. अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए बैंक ने लिखा, 'अब Yes बैंक के खाताधारक अपने डेबिट कार्ड से किसी भी बैंक के ATM से निकासी कर सकते हैं' इस ट्वीट में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) और वित्त मंत्रालय को भी टैग किया गया है.

बता दें, 6 मार्च को नकदी के संकट से जूझ रहे येस बैंक पर पाबंदी लगाते हुए RBI ने निकासी की सीमा तय कर दी थी. RBI के इस आदेश के बाद बैंक से ग्राहक 50 हजार रुपये से ज्यादा नहीं निकाल सकते थे. RBI के अनुसार फिलहाल यह रोक 5 मार्च से 3 अप्रैल तक लगी रहेगी. इसके साथ ही भारतीय रिजर्व बैंक ने यस बैंक के निदेशक मंडल को भी भंग करते हुए उस पर प्रशासक नियुक्त कर दिया था. RBI ने बैंक के जमाकर्ताओं पर निकासी की सीमा सहित इस बैंक के कारोबार पर कई तरह की पाबंदियां भी लगा दी थीं.


VIDEO: यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को ED ने किया गिरफ्तार

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com