NDTV Khabar

योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण का जाना तय, चार मार्च को पीएसी की बैठक में होगा फैसला

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में मचे घमासान के बीच पार्टी ने आगामी चार मार्च यानी बुधवार को अपनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है। एनडीटीवी इंडिया को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक योगेंद्र यादव और प्रशांत का पार्टी की पॉलिटुकल अफेयर्स कमेटी यानि पीएसी से जाना तय है। पार्टी का बड़ा धड़ा अरविंद केजरीवाल के साथ है और ऐसे में होगा वही जो वह चाहेंगे या यू कहें कि पार्टी केजरीवाल के साथ है और बाकी को एक गुट मान लिया गया है।

पार्टी नेता संजय सिंह ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बताया कि बुधवार को पार्टी की राष्ट्रीय कारियकारिणी की बैठक एक हफ्ते के भीतर एक बार फिर बुलाई गई है जिसमें पार्टी में हो रही साजिश पर चर्चा करके फैसला किया जाएगा

सूत्रों के मुताबिक, यह बैठक औपचारिक रूप से योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को पीएसी से बाहर करने के लिए की जा रही है। कहा यह भी जा रहा है कि अब सुलह या समझौते की गुंजाइश नहीं रह गई, इसलिए अब कोई रास्ता नहीं बचा है।

कहानी यहीं नहीं रुक रही, बल्कि बताया यह भी जा रहा है कि पार्टी की अनुशासनात्मक समिति को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्यों ने सुबूत के साथ योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण की शिकायत की है जिसकी जांच की जाएगी। आरोप अगर सही पाए गए तो पार्टी की अनुशासनात्मक समिति अधिकतम पार्टी से निकाले जाने की सिफारिश भी कर सकती है। (पढ़ें योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण पर क्या हैं आरोप)

यानि फिलहाल के लिए कहानी यह है कि पीएसी से योगेंद्र और प्रशांत का जाना तय है, लेकिन क्या पार्टी से भी उनको निकाला जा सकता है इस सवाल का जवाब पार्टी की अनुशासनात्मक समिति की जांच के बाद लिया जाएगा।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement