Hindi news home page

योगी आदित्यनाथ आज 2:15 बजे लेंगे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ, दिनेश शर्मा और केशव मौर्य होंगे डिप्टी सीएम

ईमेल करें
टिप्पणियां
योगी आदित्यनाथ आज 2:15 बजे लेंगे मुख्‍यमंत्री पद की शपथ, दिनेश शर्मा और केशव मौर्य होंगे डिप्टी सीएम

योगी आदित्यनाथ यूपी के सीएम घोषित कर दिए गए.

खास बातें

  1. योगी आदित्यनाथ यूपी के नए सीएम बनाए गए
  2. केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को डिप्टी सीएम बनाया गया
  3. बीजेपी की विधायक दल की बैठक में फैसला लिया गया
लखनऊ: योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री चुन लिए गए हैं. विधायक दल की हुई बैठक में उनके नाम पर मुहर लगाई गई. इनके साथ ही बीजेपी ने केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को डिप्टी सीएम नियुक्त किया है. केशव प्रसाद मौर्य जहां बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष हैं, वहीं दिनेश शर्मा लखनऊ के मेयर हैं. विधायक दल की बैठक में लिए गए फैसले की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि बैठक में किसी दूसरे नाम का प्रस्‍ताव नहीं आया और योगी के नाम का सबने समर्थन किया. नायडू ने बताया कि वरिष्ठ विधायक सुरेश खन्ना ने मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ के नाम का प्रस्ताव रखा. स्वामी प्रसाद मौर्य समेत 11 लोगों ने प्रस्ताव का अनुमोदन किया, जिसके बाद सभी विधायकों ने खड़े होकर प्रस्ताव का समर्थन किया. उन्होंने विधानसभा चुनाव में भाजपा को मिले दो तिहाई बहुमत को जाति तथा धर्म आधारित राजनीति और भ्रष्टाचार के खिलाफ जनादेश करार देते हुए कहा कि भाजपा का मुख्य एजेंडा तीव्र विकास और सुशासन होगा.

नायडू ने बताया कि विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद आदित्यनाथ ने विधायकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि इतनी बड़ी जिम्मेदारी को सम्भालने के लिये उन्हें दो वरिष्ठ नेताओं का सहयोग दिया जाए. इस बारे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं से बात की गयी. इसमें केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को उपमुख्यमंत्री बनाने का निर्णय लिया गया. हम अभी राज्यपाल के पास जाकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे.

उन्‍होंने कहा कि राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष को फैसले की जानकारी दे दी गई है. वेंकैया ने कहा, 'विकास हमारा मुख्‍य एजेंडा और सबका साथ सबका विकास ही हमारा नारा है. यूपी की जनता ने लंबे समय तक धर्म के नाम पर और जातिवाद के नाम पर हुई राजनीति को सहन किया है, अब केवल विकास की बात होगी.' उन्‍होंने बताया कि रविवार दोपहर 2:15 बजे योगी आदित्‍यनाथ का शपथग्रहण होगा जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहेंगे. साथ ही कई राज्‍यों के मुख्‍यमंत्री और पार्टी के संसदीय बोर्ड के सदस्‍य भी मौजूद होंगे.

भाजपा के प्रदेश प्रभारी ओम माथुर ने बताया कि योगी आदित्यनाथ को सर्वसम्मति से प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का निर्णय लिया गया. भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और लखनऊ के मेयर डॉक्टर दिनेश शर्मा और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को प्रदेश का उपमुख्यमंत्री बनाया गया है. ऐसा पहली बार हुआ है, जब उत्तर प्रदेश में दो उपमुख्यमंत्री बनाये गये हैं.

प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत हासिल करने के बाद मुख्यमंत्री के ऐलान को लेकर करीब एक हफ्ते का इंतजार शनिवार शाम खत्म हो गया और विधायक दल की बैठक में आदित्यनाथ को अप्रत्याशित रूप से प्रदेश का नया मुख्यमंत्री बनाने का निर्णय लिया गया. गोरक्षापीठाधीश्वर आदित्यनाथ की छवि कट्टर हिन्दुत्ववादी नेता की है. भाजपा के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने बताया कि योगी ने बैठक में आग्रह किया था कि उन्हें दो और सहयोगी दिये जायें.

उप मुख्यमंत्री बनने के बाद मौर्य ने कहा कि वह भाजपा के सभी विधायकों का आभार प्रकट करते हैं. प्रदेश में सभी वर्गों के विकास के लिये काम किया जाएगा. आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में भाजपा के चौथे और कुल 21वें मुख्यमंत्री होंगे. इससे पहले कल्याण सिंह, रामप्रकाश गुप्ता तथा राजनाथ सिंह प्रदेश की भाजपा सरकारों में मुख्यमंत्री रह चुके हैं. इनमें से कल्याण सिंह दो बार मुख्यमंत्री रहे हैं.

इससे पहले शनिवार की दोपहर योगी आदित्यनाथ चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली में पीएम मोदी और अमित शाह से मुलाकात करने के लिए पहुंच थे. शाम को ही वह दिल्ली से लौटे थे. हालांकि उस वक्त प्रेस से बात करने के दौरान उन्होंने किसी तरह का खुलासा नहीं किया था और चुपचाप कार में बैठकर चले गए थे. बीजेपी विधायकों की बैठक में भी योगी आदित्यनाथ के समर्थक उनके लिए नारे लगा रहे थे.

बताते चलें कि आदित्यनाथ की पहचान विवादित नेता के रूप में रही है. विधानसभा चुनाव में सबसे ज्यादा रैलियां करने वाले आदित्यनाथ पूर्वांचल के सबसे बड़े नेता माने जाते हैं. भाषणों में लव जिहाद और धर्मांतरण जैसे मुद्दों को उन्होंने जोर शोर से उठाया था. आदित्यनाथ का असल नाम अजय सिंह नेगी है और वह उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले से हैं. योगी आदित्यनाथ के नाम सबसे कम उम्र (26 साल) में सांसद बनने का रिकॉर्ड है. उन्‍होंने पहली बार 1998 में लोकसभा का चुनाव जीता था. इसके बाद आदित्यनाथ 1999, 2004, 2009 और 2014 में भी लगातार लोकसभा का चुनाव जीतते रहे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement