हैदराबाद निकाय चुनाव में बीजेपी ने झोंकी ताकत, योगी आदित्यनाथ ने किया ग्रैंड रोड शो

यूपी के मुख्यमंत्री हैदराबाद के ओल्ड सिटी में लाल दरवाजा में भी एक सार्वजनिक बैठक के साथ रोड शो करेंगे, जिसे व्यापक रूप से ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के गढ़ के रूप में देखा जाता है.

हैदराबाद निकाय चुनाव में बीजेपी ने झोंकी ताकत, योगी आदित्यनाथ ने किया ग्रैंड रोड शो

हैदराबाद:

Yogi Adityanath Roadshow In Hyderabad : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने अगले सप्ताह होने वाले नगरपालिका चुनाव के लिए भाजपा के हाई प्रोफाइल अभियान के तहत शनिवार को हैदराबाद में एक भव्य रोड शो किया. योगी आदित्यनाथ राज्य के भाजपा प्रमुख और करीमनगर के सांसद बंदी संजय के साथ एक बस के ऊपर एक अस्थायी मंच पर खड़े थे, हैदराबाद का जीदीमेतला क्षेत्र में इस रोड के चलते पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ से पटा पड़ा था.

इस रोड शो में आंध्र प्रदेश और तेलंगाना (दो तेलुगु राज्यों) और केरल, पंजाब, राजस्थान और यूपी की सांस्कृतिक परंपराओं के नर्तक शामिल रहे, ये एक संकेत है कि भाजपा इस चुनाव में अपनी छाप छोड़ने की कोशिश में कोई कसर नहीं छोड़ेगी.

यूपी के मुख्यमंत्री हैदराबाद के ओल्ड सिटी में लाल दरवाजा में भी एक सार्वजनिक बैठक के साथ रोड शो करेंगे, जिसे व्यापक रूप से ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के गढ़ के रूप में देखा जाता है. इस महीने की शुरुआत में डबका सीट के लिए विधानसभा उपचुनाव में अपनी जीत से उत्साहित भाजपा ने इन हैदराबाद निकाय चुनाव को दक्षिणी राज्य में अपने लिए जगह बनाने के मौके रूप में लिया है.

यह भी पढ़ें- निकाय चुनाव में प्रचार के लिए रविवार को हैदराबाद पहुंचेंगे अमित शाह, मंदिर से करेंगे शुरुआत

अब तक, पार्टी केवल कर्नाटक में ही बढ़त बनाने में कामयाब रही है, जहां उसने पिछले साल कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के विवादास्पद पतन के बाद सरकार बनाई थी.

बीजेपी ने इन चुनावों के लिए अपने ए-लिस्ट वाले नेताओं की सेना को उतारा है.  जिसमें अमित शाह, पार्टी प्रमुख जेपी नड्डा और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और प्रकाश जावड़ेकर शामिल हैं, इन सभी ने लक्षित किया है राज्य में तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) और असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM के बीच भ्रष्ट और अपवित्र गठबंधन है.

हालांकि इन चुनावों में एक मेयर का चुनाव होता है, और प्रासंगिक मुद्दे शहर के लगभग 10 लोगों को पानी और बिजली की आपूर्ति जैसे मुद्दे होते हैं, लेकिन  इस बार के चुनाव अभियान में पाकिस्तान, मोहम्मद अली जिन्ना, रोहिंग्या घुसपैठियों और हिंदू-मुस्लिम आख्यानों के आरोपों पर विवादास्पद टिप्पणियों पर चर्चा की गई है.

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com