NDTV Khabar

राहुल गांधी युवराज-अखिलेश शहजादा हैं, गोरखपुर हादसे के लिए पुरानी सरकार जिम्‍मेदार: योगी आदित्‍यनाथ

इस अवसर पर योगी आदित्‍यनाथ ने कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी और सपा नेता अखिलेश यादव पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि गोरखपुर को पिकनिक स्‍पॉट नहीं बनाया जाना चाहिए.

10.5K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी युवराज-अखिलेश शहजादा हैं, गोरखपुर हादसे के लिए पुरानी सरकार जिम्‍मेदार: योगी आदित्‍यनाथ

योगी आदित्‍यनाथ ने स्‍वच्‍छ यूपी, स्‍वस्‍थ यूपी अभियान के तहत शनिवार को गोरखपुर का दौरा किया.

खास बातें

  1. सीएम योगी ने अखिलेश और राहुल पर साधा निशाना
  2. कहा- गोरखपुर को पिकनिक स्‍पॉट नहीं बनाए
  3. गोरखपुर हादसे के लिए पुरानी सरकार जिम्‍मेदार
गोरखपुर: यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ स्‍वच्‍छ यूपी, स्‍वस्‍थ यूपी अभियान के तहत शनिवार को गोरखपुर पहुंचे. उनका यह दौरा इसलिए भी अहम माना जा रहा है क्‍योंकि इस वक्‍त यह जिला बीमारी और बाढ़ से बेहाल है. यहां योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि आसपास की गंदगी को दूर कर काफी हद तक बीमारियों से बचा जा सकता है. गंदगी की वजह से इंसेफेलाइटिस फैलता है. इसलिए इंसेफेलाइटिस को रोकने के लिए स्‍वच्‍छता जरूरी है. गौरतलब है कि गोरखपुर और निकटवर्ती तराई इलाका जापानी इंसेफेलाइटिस से बहुत प्रभावित है. पिछले दिनों गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में कई बच्‍चों की मौत राष्‍ट्रीय सुर्खियों का सबब बनी.

योगी आदित्‍यनाथ ने इस मसले पर कहा कि राजनीति से भी गंदगी दूर होना चाहिए और इस घटना के लिए पुरानी सरकार जिम्‍मेदार है क्‍योंकि स्‍वच्‍छता अभियान की ओर ध्‍यान अपेक्षित ध्‍यान नहीं दिया गया. इस अवसर पर योगी आदित्‍यनाथ ने कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी और सपा नेता अखिलेश यादव पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि गोरखपुर को पिकनिक स्‍पॉट नहीं बनाया जाना चाहिए. उन्‍होंने राहुल गांधी को युवराज और अखिलेश यादव को शहजादा कहा. गौरतलब है कि शनिवार को ही राहुल गांधी भी गोरखपुर पहुंचने वाले हैं. वह गोरखपुर हादसे के बाद वहां हालात का जायजा लेने पहुंच रहे हैं.

पढ़ें: गोरखपुर हादसा: CM योगी आदित्‍यनाथ लगातार झूठ बोल रहे हैं- राज बब्‍बर

VIDEO: कब सुधरेंगी हमारी स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं?

स्‍वच्‍छ भारत अभियान
योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि जब से सूबे में हमारी सरकार ने कामकाज संभाला है तब से स्‍वच्‍छ यूपी, स्‍वस्‍थ यूपी के संकल्‍प के साथ इस दिशा में काम शुरू किया है. इसके तहत राज्‍य सरकार के प्रयासों के चलते अब तक हजारों गांव खुले में शौच से मुक्‍त हो चुके हैं. उन्‍होंने इसमें जनभागीदारी की भी अपील की. उन्‍होंने कहा इस साल के अंत तक प्रदेश के 30 जिले खुले में शौच से मुक्‍त हो जाएंगे और अक्‍टूबर, 2018 तक पूरे उत्‍तर प्रदेश को खुले में शौच से मुक्‍त करेंगे. इस अभियान के लिए उन्‍होंने गांवों में स्‍वच्‍छता के लिए 12 हजार रुपये देने की घोषणा भी की.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement