मध्‍यप्रदेश के बड़वानी में ऑपरेशन के बाद 37 मरीजों की आंखों में संक्रमण, जांच के आदेश

मध्‍यप्रदेश के बड़वानी में ऑपरेशन के बाद 37 मरीजों की आंखों में संक्रमण, जांच के आदेश

फोटो प्रतीकात्‍मक

इंदौर/बड़वानी:

मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में बीते माह आयोजित नेत्र शिविर में किए गए ऑपरेशन के बाद 37 मरीजों की आंखों में संक्रमण हो गया है और उनकी रोशनी जाने तक का खतरा है। मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं और चार सदस्यीय जांच दल बड़वानी भेजा गया है।

कई मरीजों को अगले दिन से आने लगी समस्‍या
प्रशासनिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, 16 से 23 नवंबर के दौरान नेत्र शिविर का आयोजन किया गया था। इन शिविरों में कुल 86 मरीजों के ऑपरेशन हुए थे, ऑपरेशन कराने वाले कई मरीजों को आंखों में दूसरे दिन से ही समस्याएं आने लगी थी। इसकी वजह संक्रमण थी, जिसके चलते खुजली के साथ मवाद तक आने लगा था। इस पर मरीजों को निरंतर इंदौर के अरविंदो अस्पताल और एमवायएच भेजा गया, जहां उनका इलाज चल रहा है।

इंदौर के अस्पतालों में इलाज करा रहे पीड़ित मरीजों का कहना है कि ऑपरेशन के एक-दो दिन बाद से उनके सिर में दर्द होने लगा था, चक्कर आ रहे थे और शरीर में कंपन भी हुआ। उसके बाद चिकित्सक से संपर्क किया गया तो उन्होंने पांच दिन की दवा दी, मगर सुधार नहीं हुआ। अलबत्ता आंख से पानी आने लगा। मरीजों को अब साफ दिखाई नहीं दे रहा है।

इंदौर में चल रहा इन मरीजों का इलाज
बड़वानी की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रजनी डावर ने बताया कि शिविर में अलग-अलग दिन आंखों के ऑपरेशन हुए। मरीजों की शिकायत के बाद 28 मरीजों को गुरुवार से पहले और फिर चार को गुरुवार को और पांच को शुक्रवार को इंदौर भेज दिया गया है। इन मरीजों को संक्रमण हुआ है। उनका अरविंदो और एमवायएच अस्पताल में इलाज चल रहा है। डॉ. डावर ने आगे बताया है कि ऑपरेशन के बाद संक्रमण की वजह जानने के लिए विभाग ने जांच के आदेश दिए हैं और चार सदस्यीय दल इसकी जांच करेगा। यह दल बड़वानी पहुंच रहा है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बड़वानी के जिलाधिकारी एएस गंगवार ने इस मुद्दे पर कहा, 'मरीजों के आंखों की रोशनी जाने की बात सामने नहीं आई है। हां, दो मरीजों की हालत जरूर गंभीर है।' दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव गौरी सिंह ने संवाददाताओं से कहा है कि "लापरवाही बरतने वालों को बख्शा नहीं जाएगा, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी मरीजों के बेहतर उपचार के निर्देश दिए हैं।'