Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

आरकॉम ने बैंकों से कहा, 30 सितंबर तक 25,000 करोड़ रुपये का कर्ज चुका देंगे

ऋण के बोझ से दबी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम): ने सोमवार को बैंकों से कहा कि वह इस साल 30 सितंबर तक अपने 25,000 करोड़ रुपये के कर्ज का भुगतान कर देगी. कंपनी को दो कारोबारी सौदों से यह राशि प्राप्त होने की उम्मीद है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आरकॉम ने बैंकों से कहा, 30 सितंबर तक 25,000 करोड़ रुपये  का कर्ज चुका देंगे
नई दिल्ली:

ऋण के बोझ से दबी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम): ने सोमवार को बैंकों से कहा कि वह इस साल 30 सितंबर तक अपने 25,000 करोड़ रुपये  के कर्ज का भुगतान कर देगी. कंपनी को दो कारोबारी सौदों से यह राशि प्राप्त होने की उम्मीद है. आरकॉम ने बयान में कहा, "हमने औपचारिक तौर पर सभी ऋणदाताओं को सूचित किया है कि इन दो सौदों से प्राप्त होने वाली राशि के जरिये कुल 25,000 करोड़ रुपये  के ऋण का भुगतान 30 सितंबर, 2017 तक या पहले कर दिया जाएगा." इस साल 31 मार्च तक कंपनी पर शुद्ध रूप से 44,345.30 करोड़ रुपये  का कर्ज बकाया था.

कंपनी ने यह भरोसा ऐसे समय दिलाया है जबकि उसकी ऋण भुगतान क्षमता को लेकर चिंता जताई जाने लगी है. इस तरह की खबरें हैं कि कंपनी ने 10 से अधिक स्थानीय बैंकों से अपनी ऋण प्रतिबद्धता में चूक की है.

आरकॉम ने कहा कि इस 25,000 करोड़ रुपये  में से सिर्फ बकाया कर्ज ही चुकाया जाएगा, बल्कि प्रो-राटा के आधार पर बैंकों को उल्लेखनीय रूप से समय पूर्व कर्ज का भुगतान भी किया जाएगा. आरकॉम के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी की अपने बैंकों के साथ दो सौदों के लिए सहमति लेने और 30 सितंबर तक कर्ज की किस्त के भुगतान को नए सिरे से निश्चित करने की बातचीत चल रही है. मार्च, 2017 में समाप्त तिमाही में आरकॉम को 948 करोड़ रुपये  का घाटा हुआ है. इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 79 करोड़ रुपये  का शुद्ध लाभ कमाया था.
 


टिप्पणियां

 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Zomato का डिलीवरी बॉय 'सोनू' बना इंटरनेट सेंसेशन, कंपनी ने ट्विटर पर लगाई DP, लोग बोले- इसकी सैलरी बढ़ा दो प्लीज

Advertisement