NDTV Khabar

IPL 2018: बासिल थंपी बोले, भुवनेश्‍वर कुमार से काफी कुछ सीखने को मिल रहा है...

गेंदबाज बासिल थंपी का कहना है कि उन्होंने इस लीग के पिछले सीजन से इतना विश्वास हासिल कर लिया है कि अब वह किसी भी बल्लेबाज का सामना करने के लिए तैयार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL 2018: बासिल थंपी बोले, भुवनेश्‍वर कुमार से काफी कुछ सीखने को मिल रहा है...

पिछले साल आईपीएल में थंपी ने गुजरात लायंस का प्रतिनिधित्व किया था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, किसी भी बल्‍लेबाज के खिलाफ गेंदबाजी करने में सक्षम
  2. पिछले सीजन में गुजरात लायंस की ओर से खेले थे थंपी
  3. इस बार सनराइजर्स ने उन्‍हें 95 लाख रुपये में खरीदा है
नई दिल्ली: सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के लिए 95 लाख रुपये में खरीदे गए गेंदबाज बासिल थंपी का कहना है कि उन्होंने इस लीग के पिछले सीजन से इतना विश्वास हासिल कर लिया है कि अब वह किसी भी बल्लेबाज का सामना करने के लिए तैयार हैं. थंपी ने एक इंटरव्‍यू में आईपीएल में अपने करियर के बारे में कई चीजों पर चर्चा की. थंपी ने एक बयान में कहा था कि उनके पास इतना अनुभव आ चुका है कि वह किसी भी बल्लेबाज का सामना कर सकते हैं.चेन्नई सुपर किंग्स टीम में शामिल उनके दोनों पसंदीदा खिलाड़ियों, महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना का सामना करने के बारे में उन्होंने कहा, "यह सब आपकी क्षमता पर निर्भर करता है.आपके सामने जो भी बल्लेबाज हो, आपको केवल अपनी क्षमता पर भरोसा करना है.पिछले साल आईपीएल से मैंने इसी भरोसे का पाठ सीखा है.इसलिए, आज मुझे इतना विश्वास है कि मैं किसी भी बल्लेबाज का सामना कर सकता हूं." पिछले साल आईपीएल में थंपी ने गुजरात लायंस का प्रतिनिधित्व किया था और टीम के लिए 12 मैचों में 11 विकेट झटककर 'इमर्जिग प्लेयर ऑफ द ईयर' का पुरस्कार भी जीता था. थंपी की आधार राशि इस साल जनवरी में आयोजित हुई लीग की नीलामी में 30 लाख रुपए रखी गई थी और उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद ने 95 लाख रुपये में खरीदा था.केरल के तेज गेंदबाज को आईपीएल के 11वें सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं.गुजरात लायंस इस साल आईपीएल का हिस्सा नहीं है क्योंकि चेन्नई सुपरकिंग्स और राजस्थान रॉयल्स की वापसी हुई है.स्पॉट फिक्सिंग मामले में इन दो टीमों पर दो साल का प्रतिबंध लगा था. ऐसे में नए सीजन, नई टीम और नई चुनौती का सामना करने के बारे में थंपी ने कहा, "मैं इस टीम में आकर काफी खुश और उत्साहित महसूस कर रहा हूं.मैंने आईपीएल में पदार्पण इसी टीम के खिलाफ किया था.यह ग्राउंड और यह टीम हमेशा मेरे लिए खास रहेगी." विश्व के बेहतरीन गेंदबाजों में शुमार भुवनेश्वर इस बार हैदराबाद टीम के उप-कप्तान हैं. ऐसे में केरल के इस गेंदबाज के पास अनुभव हासिल करने का मौका होगा. इस पर थंपी कहते हैं, "यह मेरा सौभाग्य है कि मैं उनके साथ अभ्यास कर रहा हूं.गेंदबाजी कर रहा हूं.उनसे काफी कुछ सीखने को मिल रहा है और यह सबसे अधिक महत्वपूर्ण है." बकौल थंपी, "मुझे उनसे काफी कुछ टिप्स मिल रहे हैं.एक तेज गेंदबाज के तौर पर जरूरी होता है कि आपको फील्डिंग किस तरह लगानी है.इस बारे में पता हो.इसको लेकर भुवनेश्वर से मुझे काफी कुछ नया जानने को मिला है."पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ खेली गई टी-20 सीरीज के लिए थंपी को भारतीय टीम में शामिल किया गया था, लेकिन वह अंतिम एकादश में जगह नहीं बना पाए.ऐसे में आईपीएल के जरिए अंतिम एकादश में जगह हासिल करने के बारे में उन्होंने कहा, "मेरा ऐसा कुछ सोचना नहीं है.मैं जैसा हूं, वैसे ही रहते हुए खेलना चाहता हूं.मैंने पिछले साल ही यॉर्कर गेंदों पर ध्यान दिया था और अब भी इसी पर ही टिका रहूंगा.टीम में जगह बनाने को लेकर मैंने कोई योजना तैयार नहीं की है."

टिप्पणियां
वीडियो: सबसे महंगे बिके बेन स्‍टोक्‍स
इस बार डेविड वॉर्नर टीम में नहीं हैं और हैदराबाद की कप्तानी केन विलियमसन कर रहे हैं.उनकी शैली अलग है.ऐसे में विलियमसन टीम को ट्रॉफी तक लेकर जा पाएंगे? इस बारे में थंपी ने कहा, "मैं विलियमसन के नेतृत्व में टीम में शामिल होकर काफी खुश हूं.वह काफी शांत और सुलझे हुए इंसान हैं.उनके रहते हुए हमें अभ्यास के समय किसी प्रकार का दबाव नहीं होता है और उनसे जब चाहें आसानी से बात कर लेते हैं.वह टीम को और भी ऊर्जा देंगे."इस बार गुजरात के किस खिलाड़ी की कमी आईपीएल में सबसे ज्यादा खलेगी.इस पर थम्पी ने कहा, "रैना भाई का साथ न होना सबसे ज्यादा खलेगा.ड्वेन ब्रावो की कमी भी खलेगी.पिछले साल रैना की ही बदौलत मैंने 14 में से 12 मैच खेले थे.किसी नए खिलाड़ी के लिए टीम में आने के साथ ही इतने मैच खेलना आसान नहीं होता.उन्होंने मेरे साथ एक भाई जैसा महसूस किया." भारतीय टीम के साथ ड्रेसिंग रूम के अनुभव के बारे में थंपी ने कहा, "अनुभव अच्छा था.हर क्रिकेट खिलाड़ी को भारतीय टीम की जर्सी को एक बार जरूर पहनना चाहिए.मैंने वो एहसास हासिल किया. मैंने महेंद्र सिंह धौनी और अन्य दिग्गजों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा किया और यह मेरा सौभाग्य था.मेरे लिए तो सपने के सच होने जैसा था." सीनियर टीम में थंपी को धोनी के व्यक्तित्व ने सबसे अधिक प्रभावित किया.उन्होंने कहा, "वह काफी शांत हैं और हमेशा बिना किसी दबाव के रहते हैं."

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement