Hindi news home page

IPL10: एमएस धोनी को पुणे टीम की कप्‍तानी से हटाए जाने के तरीके पर इस टीम के कप्‍तान ने जताई निराशा...

ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL10: एमएस धोनी को पुणे टीम की कप्‍तानी से हटाए जाने के तरीके पर इस टीम के कप्‍तान ने जताई निराशा...

सुरेश रैना ने कहा है कि धोनी को पुणे की कप्‍तानी से हटाए जाने से वे निराश थे (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के लिए धोनी की कप्‍तानी में खेल चुके हैं रैना
  2. अब आईपीएल में गुजरात लायंस टीम के कप्‍तान हैं
  3. कहा-धोनी का हर जगह सम्‍मान किया जाना चाहिए
कोलकाता: चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स टीम में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्‍व में खेलते हुए बाएं हाथ के आकर्षक बल्‍लेबाज सुरेश रैना, अपने कप्‍तान के खास सहयोगी हुआ करते थे. आईपीएल-2016 से यह साथ टूट गया है लेकिन सुरेश रैना के दिल में धोनी के प्रति सम्‍मान बरकरार है. आईपीएल-10 में धोनी जहां खिलाड़ी की हैसियत से पुणे सुपर जाइंट टीम की ओर से खेल रहे हैं, वहीं रैना गुजरात लायंस टीम के कप्‍तान हैं. धोनी पिछले सीजन में पुणे टीम के कप्‍तान थे लेकिन इस सीजन में उन्‍हें नेतृत्‍व की जिम्‍मेदारी से मुक्‍त करके ऑस्‍ट्रेलिया के स्‍टीव स्मिथ को पुणे टीम की बागडोर सौंपी गई है.  धोनी के करीबी सुरेश रैना को अपने कप्तान की ‘कमी ही नहीं खलती’ बल्कि वह राइजिंग पुणे सुपरजांइट्स की कप्तानी से उन्हें हटाये जाने के तरीके से भी काफी निराश हैं.

रैना ने पीटीआई को साक्षात्कार में कहा, ‘मैं निराश था. उन्होंने (धोनी ने ) देश के लिए और आईपीएल टीमों के लिये इतना अच्छा काम किया है. उनका हर जगह सम्मान किया जाना चाहिए. यह केवल मेरे कहने की बात नहीं है बल्कि पूरी दुनिया यही कहती है. ’धोनी का आईपीएल-10 में बल्‍लेबाजी प्रदर्शन कोई खास नहीं रहा है. अभी तक वे 87 के स्ट्राइक रेट से पांच मैचों में महज 61 रन जुटाए हैं जिससे चारों ओर से उनकी आलोचना हो रही है.

रैना ने कहा, ‘भारतीय टीम और चेन्नई सुपरकिंग्स में उनके साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने के बाद आप जान जाते हो कि मुश्किल दौर में क्या होता है. उनका (धोनी का) बतौर खिलाड़ी सम्मान किया जाना चाहिए. किसी भी पेशे में, भले ही यह खिलाड़ी का हो या पत्रकार का, आपका सम्मान किया जाना चाहिए.  हर खिलाड़ी, चाहे उसका कैरियर कितना भी कम समय तक चला हो, सम्मान हासिल करना चाहता है.’ यह पूछने पर कि क्या इससे धोनी प्रभावित हो रहे हैं तो उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता. उम्मीद करता हूं कि वह दो-तीन मैचों में बेहतर करेंगे. हमने अभी पांच ही मैच खेले हैं. कुछ समय बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी. उन्हें बल्लेबाजी क्रम में ऊपर बल्लेबाजी करनी चाहिए और लंबे समय तक खेलना चाहिए. वह विश्व स्तर के ‘फिनिशर’हैं. ’ (भाषा से इनपुट)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement