IPL MIvsRPS : गौतम गंभीर की केकेआर को पानी पिला चुके इस गेंदबाज ने भरी हुंकार, कहा- फाइनल अलग होगा!

शाहरुख खान के मालिकाना हक वाली कोलकाता नाइटराइडर्स टीम का IPL-10 का सफर शुक्रवार को खत्म हो गया. मुंबई इंडियन्स ने इस मैच में अगर एकतरफा अंदाज में जीत दर्ज की, तो इसमें लेगब्रेक बॉलर कर्ण शर्मा का अहम रोल रहा.

IPL MIvsRPS : गौतम गंभीर की केकेआर को पानी पिला चुके इस गेंदबाज ने भरी हुंकार, कहा- फाइनल अलग होगा!

IPL 2017 : कर्ण शर्मा ने क्वालिफायर-2 में केकेआर के 4 विकेट चटकाए थे (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

शाहरुख खान के मालिकाना हक वाली कोलकाता नाइटराइडर्स टीम का IPL-10 का सफर शुक्रवार को खत्म हो गया. मुंबई इंडियन्स ने इस मैच में अगर एकतरफा अंदाज में जीत दर्ज की, तो इसमें लेगब्रेक बॉलर कर्ण शर्मा का अहम रोल रहा. कर्ण ने तो केकेआर की बल्लेबाजी की कमर ही तोड़ दी और उनकी गेंदों के सामने गंभीर सेना नाचती दिखी. उन्होंने केकेआर मुख्य विस्फोटक बल्लेबाजों को पलक झपकते ही चलता कर दिया. उनके शिकारों में कप्तान गौतम गंभीर, सुनील नरेन शामिल रहे. अब कर्ण का सारा ध्यान फाइनल मुकाबले पर है, जिसमें उन्हें राइजिंग पुणे से भिड़ना है. हालांकि कर्ण को इस मैच की चिंता नहीं है और उन्होंने पुणे के खिलाफ रिकॉर्ड खराब होने की बातों पर ध्यान नहीं देने पर जोर देते हुए कहा कि अंतिम और निर्णायक मुकाबला अलग ही होगा...

आईपीएल में तीसरा खिताब जीतने की उम्मीदें पाले मुंबई इंडियंस का सामना रविवार को हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में राइजिंग पुणे से होगा, जिसके कप्तान स्टीव स्मिथ हैं और उनकी टीम शानदार फॉर्म में है. इतना ही नहीं इससे पहले के सभी मुकाबलों में वह मुंबई के हरा चुकी है. ऐसे में एक्सपर्ट मुंबई पर पुणे को फेवरेट बता रहे.

एक्सपर्ट से अलग क्वालिफायर-2 में मुंबई इंडियंस के कर्ण शर्मा ने चेताते हुए कहा है कि लीग मैचों के आधार पर मुंबई को हल्के में लेना भारी पड़ेगा. उनको भरोसा है कि लीग चरण और क्वालिफायर में मिली हार का आईपीएल फाइनल में कोई असर नहीं होगा.

कर्ण ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘हम फाइनल के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. लीग चरण की हार अब अतीत की बात है.'

वास्तव में कर्ण शर्मा को स्टार ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह की जगह टीम में शामिल किया गया था और उन्होंने मौके को दोनों हाथों से लपक लिया. गौतरलब है कि शुरुआती दौर में भज्जी ने अच्छी गेंदबाजी की थी, लेकिन बाद में वह सफल नहीं रहे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

कर्ण ने कहा, ‘यह मेरे हाथ में नहीं है. टीम को मेरी जरूरत थी और मैं अच्छी गेंदबाजी करके जीत में अहम भूमिका निभाना चाहता था. मैं जब नहीं खेलता हूं, तब भी काफी मेहनत करता हूं.’

यह मुकाबला सिर्फ महाराष्ट्र की दो दिग्गज टीमों के बीच नहीं है बल्कि इसमें कई बड़े सितारों की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है. कागजों पर भी दोनों टीमें बराबरी की लग रही है चूंकि पुणे ने इस सत्र में मुंबई को तीन बार हराया है जिसमें पहले क्वालीफायर में मिली धमाकेदार जीत शामिल थी. फाइनल हालांकि नया मैच है और मुंबई तीनों हार का बदला चुकता कर सकती है.