NDTV Khabar

IPL Qualifier 1, SRH vs CSK: 'कुछ ऐसे' शिखर धवन के लिए पनौती बन गए प्ले-ऑफ मुकाबले !

अगर हैदराबाद हार भी जाता है, तो उसे एक मौका और मिलेगा, लेकिन उससे पहले धवन को इस पनौती की काट निकालनी होगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL Qualifier 1, SRH vs CSK: 'कुछ ऐसे' शिखर धवन के लिए पनौती बन गए प्ले-ऑफ मुकाबले !

शिखर धवन की फाइल फोटो

खास बातें

  1. प्ले-ऑफ का पिटा हुआ मोहरा बने धवन!
  2. आगे मौका मिलना चाहिए या नहीं?
  3. क्यों प्ले-ऑफ में कुंद पड़ जाती है धमक?
नई दिल्ली: लगता है कि शिखर धवन के लिए इस तरह के बड़े मौके मानो पनौती बन गए हैं! वैसे टीम इंडिया के लिए धवन का बल्ला बड़े मौकों पर खूब जोर-शोर से बोला है, लेकिन जब बात आईपीएल की आती है, तो धवन के बल्ले को मानो सांप सा सूंघ जाता है. और यह हम यूं ही नहीं कह रहे. इसके पीछे ठोस वजह हैं. वास्तव में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ क्वालीफायर मुकाबले (मैच रिपोर्ट) से पहले तक धवन और धोनी की टक्कर की चर्चा बड़े जोर-शोर से थी, लेकिन इस टक्कर को दीपक चाहर ने मैच की पहली ही गेंद पर शुरू होने से पहले ही खत्म कर दिया.  दरअसल धोनी के क्वालीफायर मुकाबले से पहले तक 173 मैचों में 4007 रन थे, तो वहीं धवन के 140 मैचों में 3998 रन थे. ऐसे में धवन के सभी समर्थक धवन की बेहतरीन फॉर्म को देखते हुए यह उम्मीद कर रहे थे कि न केवल दिल्ली का यह दिलेर आईपीएल में अपने चार हजार रन पूरे करेगा, बल्कि वह धोनी के रनों की रेखा को भी पार कर लेगा. चार हजार रन पूरे करने के लिए तो धवन को सिर्फ दो ही रन की दरकार थी. लेकिन धोनी का रिकॉर्ड तो छोड़िए, धवन ने अपने चाहने वालों की चार हजार रन की उम्मीदों पर भी पानी फेर दिया. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: IPL Qualifier 1, SRH vs CSK: महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना का यह रिकॉर्ड टूटना मुश्किल ही नहीं...!
  एक बार को तो यह सोचकर बहुत ही अजीब लगा कि मैच की पहली ही गेंद पर धवन कैसे शॉट खेलने चले गए. कम से कम दो-तीन गेंदों को सूंघ तो लेते! लेकिन लगता है कि उस पनौती को कुछ ऐसा ही मंजूर था, जो धवन पर सालों से मंडरा रही है. जब धवन के इतिहास का हमने गहराई से पोस्टमार्टम किया, तो यह पनौती तुरंत ही सतह पर तैरकर आ गई. और इसने साफ कर दिया कि प्ले-ऑफ मुकाबले इस लेफ्टी बल्लेबाज को बिल्कुल भी नहीं भाते. 

VIDEO: विराट कोहली ने कुछ ही दिन पहले एनडीटीवी से खास बात की थी. 
आपको बता दें कि धवन ने आईपीएल के इतिहास में 9 प्ले-ऑफ मुकाबले खेले हैं. और आप सोच सकते हैं कि इस दिग्गज बल्लेबाज का इन मैचों में क्या औसत रहा होगा. जी हां, धवन ने इन मैचों में 11.00 के औसत से कुल जमा 99 रन बना हैं. और स्ट्राइक रेट रहा है 82. और उनका बेस्ट स्कोर रहा है 33. अब आप ही बताओ धवन के चाहने वालो कि प्ले-ऑफ मैचों को धवन की पनौती कहा जाए या न कहा जाए? 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement