NDTV Khabar

IPL10: कोलकाता की बैटिंग की हैदराबाद की गेंदबाजी के आगे 'परीक्षा', दोनों टीमों के मजबूत-कमजोर पक्ष..

आईपीएल 10 के अंतर्गत कल होने वाले एलिमिनेटर में कोलकाता नाइटराडर्स की टीम सनराइजर्स हैदराबाद के सामने होगी.

4016 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL10: कोलकाता की बैटिंग की हैदराबाद की गेंदबाजी के आगे 'परीक्षा', दोनों टीमों के मजबूत-कमजोर पक्ष..

सनराइजर्स के राशिद खान आईपीएल10 के 'छुपे रुस्‍तम' साबित हुए हैं (फाइल फोटो)

आईपीएल 10 के अंतर्गत कल होने वाले एलिमिनेटर में कोलकाता नाइटराडर्स की टीम सनराइजर्स हैदराबाद के सामने होगी. इस मैच में जीत हासिल वाली टीम अपने सफर हो आगे जारी रखते हुए क्‍वालिफायर-1 की हारने वाली टीम का सामना करेगी. दूसरी ओर, कल के मैच में जो भी टीम हारी, उसका अभियान समाप्‍त हो जाएगी. कोलकाता और हैदराबाद के बीच होने वाले कल के मुकाबले को एक तरह से कोलकाता की बल्‍लेबाजी की हैदराबाद की गेंदबाजी से 'जंग' माना जा रहा है.

कोलकाता टीम में जहां गौतम गंभीर, क्रिस लिन, मनीष पांडे और यूसुफ पठान जैसे धाकड़ बल्‍लेबाज हैं, वहीं हैदराबाद टीम के गेंदबाज भुवनेश्‍वर कुमार, राशिद खान और सिद्धार्थ कौल ने भी इस सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन किया है. वैसे, दोनों टीमें बेहत संतुलित हैं और मुकाबले को लेकर कोई भी पूर्वानुमान लगाना खतरे से खाली नहीं है. आइए नजर डालते हैं दोनों ही टीमों के मजबूत और कमजोर पक्ष पर...

सनराइजर्स हैदराबाद
मजबूत पक्ष :टीम के पास भुवनेश्‍वर कुमार और लेग स्पिनर राशिद खान के रूप में ऐसे गेंदबाज हैं जो लगातार सफलताएं हासिल कर जीत में योगदान दे रहे हैं. भुवी को पिछले सीजन की तरह इस सीजन में भी पर्पल कैप के प्रबल दावेदार हैं. नवोदित तेज गेंदबाज सिद्धार्थ कौल ने भी अपने प्रदर्शन से हर किसी को हैरान किया है.

बल्‍लेबाजी में टीम का दारोमदार कप्‍तान डेविड वॉर्नर और शिखर धवन पर हैं जो रनों के लिहाज से आईपीएल10 के टॉप-2 बल्‍लेबाजों में हैं. वार्नर ने अब तक 604 और धवन ने 468 रन बनाए हैं.

कमजोर पक्ष : बल्‍लेबाजी में बहुत कुछ निर्भरता इन दोनों बल्‍लेबाजों और हेनरिक्‍स पर ही है. वैसे तो चोटिल युवराज के कल के मैच खेलने को लेकर संदेह की स्थिति है लेकिन युवी के प्रदर्शन में अब तक स्थिरता नहीं रही है. गेंदबाजी में अनुभवी आशीष नेहरा का चोट के कारण बाहर होना भी टीम के लिए भारी साबित हो सकता है.

कोलकाता नाइटराडइर्स
मजबूत पक्ष : टीम के कप्‍तान गौतम गंभीर और रॉबिन उथप्‍पा  शानदार प्रदर्शन कर रहे है. चोट से उबरने के बाद क्रिस लिन के वापस आने से बल्‍लेबाजी को और मजबूती मिली हैं. पिंचहिटर के तौर पर सुनील नरेन ने धमाकेदार प्रदर्शन किया है, वही मध्‍यक्रम में मनीष पांडे भी बल्‍लेबाजी को मजबूती दे रहे हैं.

गेंदबाजी में चाइनामैन कुलदीप यादव, क्रिस वोक्‍स, उमेश यादव, पीयूष चावला  और नाथन कुल्‍टर नाइल हैं जो टीम के लिए लगातार विकेट हासिल कर रहे हैं.

कमजोर पक्ष: यूसुफ पठान का बल्‍लेबाज और गेंदबाज के रूप में कमजोर प्रदर्शन टीम के लिए चिंता का विषय है. एक और बात यह कि अच्‍छी शुरुआत करने के बाद कोलकाता टीम ट्रैक से उतरती लगी. कोलकाता को पिछले दो मैचों में मुंबई और किंग्‍स इलेवन पंजाब से हार का सामना करना पड़ा. ऐसे में कप्‍तान गंभीर के सामने टीम को फिर से जीत की राह पर लाने की कठिन चुनौती है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement