NDTV Khabar

IPL10: पर्पल कैप के प्रबल दावेदार भुवनेश्‍वर कुमार से किसी भी तरह कम नहीं है इस तेज गेंदबाज का प्रदर्शन लेकिन...

सनराइजर्स के भुवनेश्‍वर कुमार के प्रदर्शन की चकाचौंध के बीच एक अन्‍य तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट का अच्‍छा प्रदर्शन दबकर रह गया.

6 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL10: पर्पल कैप के प्रबल दावेदार भुवनेश्‍वर कुमार से किसी भी तरह कम नहीं है इस तेज गेंदबाज का प्रदर्शन लेकिन...

भुवनेश्‍वर आईपीएल10 में भी पर्पल कैप के सबसे मजबूत दावेदार हैं, वे अब तक 25 विकेट ले चुके हैं (फोटो BCCI)

खास बातें

  1. अब तक 13 मैचों में 25 विकेट हासिल किए हैं भुवनेश्‍वर ने
  2. पुणे के जयदेव उनादकट 10 मैच में हासिल कर चुके हैं 21 विकेट
  3. गेंदबाजी औसत में उनादकट आगे तो इकोनॉमी रेट में भुवी
आईपीएल2017 में अब तक सनराइजर्स हैदराबाद के भुवनेश्‍वर कुमार सबसे सफल गेंदबाज साबित हुए हैं. टूर्नामेंट में SRH टीम के पहले मैच से ही भुवी का प्रदर्शन इतना शानदार रहा है कि कप्‍तान डेविड वॉर्नर को जब भी विकेट की जरूरत होती है, उनकी नजर गेंद को विकेट के दोनों ओर स्विंग कराने वाले इस गेंदबाज पर ही जाती है. स्विंग के उस्‍ताद भुवनेश्‍वर ने अपनी गेंदबाजी में अब यॉर्कर को भी शामिल किया है जिससे उनकी गेंदबाजी और धारदार हो गई है. यही कारण है कि डेथ ओवर्स में भी उन्‍हें गेंदों पर आतिशी प्रहार करना नामी बल्‍लेबाजों को भी मुश्किल हो रहा है. टूर्नामेंट के 13 मैचों में भुवनेश्‍वर ने अब तक 14.32 के प्रभावशाली औसत से 25 विकेट हासिल किए हैं. इस दौरान 19 रन देकर पांच विकेट उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा है. इकोनॉमी रेट (6.97)के मामले में भी वे खासे असरदार रहे हैं. इस बात की पूरी उम्‍मीद है कि आईपीएल-9 की तरह इस सीजन में भी पर्पल कैप मेरठ के भुवनेश्‍वर के नाम ही रहेगी.
 
jaydev unadkat
जयदेव उनादकट पुणे के प्रमुख गेंदबाज रहे हैं. उन्‍होंने अब तक 10 मैच में 21 विकेट लिए हैं (फोटो BCCI)
 
बेशक भुवनेश्‍वर के इस प्रदर्शन की जितनी तारीफ की जाए, कम है लेकिन उनकी इस चकाचौंध के बीच एक अन्‍य गेंदबाज के शानदार प्रदर्शन से क्रिकेटप्रेमियों की निगाह हटकर रह गई. आईपीएल-10 के गेंदबाजी प्रदर्शन की सूची पर नजर डालें तो राइजिंग पुणे सुपरजाइंट के जयदेव उनादकट 10 मैचों में 21 विकेट के साथ दूसरे स्‍थान पर हैं. यहां यह बात ध्‍यान रखनी होगी कि प्‍लेऑफ के पहले तक भुवनेश्‍वर (13 मैच )की तुलना में उनादकट (10 मैच) ने तीन मैच कम खेले हैं. प्रति विकेट औसत के लिहाज से देखें तो जयदेव (13.28) का प्रदर्शन भुवनेश्‍वर से भी बेहतर है. हां, इकोनॉमी रेट के मामले में जरूर भुवनेश्‍वर ने बाजी मारी है. भुवी का इकोनॉमी रेट 6.97 का है जबकि उनादकट का 7.37 का. 30 रन देकर पांच विकेट इस आईपीएल का उनादकट का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा है. स्‍टीव स्मिथ के नेतृत्‍व वाली राइजिंग पुणे सुपरजाइंट को प्‍लेऑफ तक पहुंचाने में जयदेव उनादकट की गेंदबाजी की खास भूमिका रही है. पुणे ने आज किंग्‍स इलेवन पंजाब को 9 विकेट से हराकर प्‍लेऑफ में स्‍थान बनाया. आज की इस जीत के साथ पुणे ने अंकतालिका में मुंबई इंडियंस के बाद दूसरा स्‍थान हासिल कर लिया है.

20 साल की उम्र में में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था टेस्‍ट
पोरबंदर के जयदेव दीपकभाई उनादकट का नाम भले ही इस समय देश के क्रिकेट परिदृश्‍य में ज्‍यादा सुर्खियों में नहीं रहा है लेकिन एक समय उन्‍हें तेज गेंदबाज के रूप में काफी ऊंचा रेट किया जाता था. यही कारण हैं कि महज 20 वर्ष उम्र में उन्‍हें देश के लिए खेलने का मौका मिल गया था. बाएं हाथ के तेज गेंदबाज उनादकट ने दिसंबर 2010 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में अपने टेस्‍ट करियर का आगाज किया लेकिन इस मैच में उन्‍हें 100 से अधिक रन खर्च करने के बावजूद कोई विकेट हासिल नहीं हो सका था.

सात वनडे मैचों में आठ विकेट ले चुके हैं
उनादकट देश के लिए सात वनडे मैच भी खेले जिसमें उन्‍होंने आठ विकेट हासिल किए हैं. 41 रन देकर चार विकेट वनडे का उनका सर्वश्रेष्‍ठ विश्‍लेषण रहा है. आईपीएल10 के अपने प्रदर्शन से टी20 के विशेषज्ञ गेंदबाज के रूप में पहचान बनाने वाले उनादकट ने अपना एकमात्र इंटरनेशनल टी20 मुकाबला जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ वर्ष 2016 में हरारे में खेला था लेकिन उन्‍हें कोई विकेट नहीं मिला था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement