NDTV Khabar

IPL10:सुरेश रैना की गुजरात लायंस जैसी शुरुआत तो IPL में कोई भी टीम नहीं चाहेगी...

33 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL10:सुरेश रैना की गुजरात लायंस जैसी शुरुआत तो IPL में कोई भी टीम नहीं चाहेगी...

सुरेश रैना ने कोलकाता के खिलाफ अर्धशतक बनाया था लेकिन टीम को करारी हार का सामना करना पड़ा था (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. अपने दूसरे मैच में टीम को 9 विकेट की करारी हार मिली
  2. पहले मैच में कोलकाता टीम ने 10 विकेट से हराया था
  3. गुजरात की गेंदबाजी दोनों मैचों में साधारण नजर आई
हैदराबाद: आईपीएल-10 के दूसरे मैच में भी सुरेश रैना की कप्‍तानी वाली गुजरात लायंस टीम को करारी हार का सामना करना पड़ा है. टीम को पहले मैच में जहां गौतम गंभीर की कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था, वहीं दूसरे मैच में उसे डेविड वॉर्नर की सनराइजर्स हैदराबाद ने 9 विकेट से शिकस्‍त दी. इन दोनों ही मुकाबलों में गुजरात के लायंस विपक्षी टीम के मुकाबले कहीं नहीं ठहर पाई.हैदराबाद की ओर से मैच में तीन विकेट लेने वाले अफगानिस्‍तान के लेग स्पिनर राशिद खान मैन ऑफ द मैच रहे.

रविवार को हैदराबाद के खिलाफ मुकाबले में निर्धारित 20 ओवर्स में 'गुजरात के शेर' महज 135 रन ही बना पाए. उसकी रनसंख्‍या 'हैदराबादियों' के लिए कोई चुनौती साबित नहीं हो पाई. पूरे मैच में वॉर्नर की टीम ने एकमात्र विकेट शिखर धवन (9) के रूप में गंवाया जो टीम इंडिया के पूर्व गेंदबाज प्रवीण कुमार का शिकार बने. कप्‍तान डेविड वॉर्नर ने 76 रन (45 गेंद, छह चौके और चार छक्‍के) और मोइज हेनरिक्‍स ने 52 रन (39 गेंद, छह चौके) पर नाबाद रहते हुए टीम को जीत तक पहुंचा दिया. हैदराबाद ने 15.3 ओवर में महज एक विकेट खोकर लक्ष्‍य हासिल कर लिया. गुजरात की गेंदबाजी अब तक उसकी सबसे कमजोर कड़ी साबित हुई है. वैसे तो इस टीम में प्रवीण कुमार, धवल कुलकर्णी और चाइनामैन शिविल कौशल जैसे उपयोगी बॉलर हैं, लेकिन अब तक ये विपक्षी बल्‍लेबाजों पर छाप छोड़ने में नाकाम रहे हैं.

इससे पहले गुजरात लायंस को 7 अप्रैल को कोलकाता नाइटराइडर्स के हाथों 10 विकेट की करारी हार का सामना करना पड़ा था. इस मैच में कप्‍तान सुरेश रैना के नाबाद 68 रनों के सहारे टीम ने 20 ओवर्स में 183 रनों का सम्‍मानजनक स्‍कोर बनाया था लेकिन गौतम गंभीर और क्रिस लिन की तूफानी बल्‍लेबाजी ने इसे साधारण साबित कर दिया. लिन ने महज 41 गेंदों पर छह चौकों और आठ छक्‍कों की मदद से नाबाद 93 रन बनाए जबकि गौतम गंभीर ने 48 गेंदों पर 12 चौकों की मदद से नाबाद 76 रन की पारी खेली. इन दोनों की आतिशी बल्‍लेबाजी का आलम यह था कि कोलकाता टीम ने 14.5 ओवर में ही बिना कोई विकेट गंवाए लक्ष्‍य हासिल कर लिया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement