NDTV Khabar

कौन है यह वाशिंगटन जिसने मुंबई के खिलाफ किया 'सुंदर' प्रदर्शन और पुणे को पहुंचाया फाइनल में

वाशिंगटन सुंदर चार ओवरों में 16 देकर तीन विकेट लिए. यह उनके आईपीएल करियर का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन था जो मुंबई इंडियंस की हार का कारण बना.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कौन है यह वाशिंगटन जिसने मुंबई के खिलाफ किया 'सुंदर' प्रदर्शन और पुणे को पहुंचाया फाइनल में

खास बातें

  1. पुणे के गेंदबाज़ विकेट लेने में और रन रोकने में असफल साबित हो रहे थे
  2. वाशिंगटन सुंदर ने सिर्फ एक रन देकर मुंबई इंडियंस के दो विकेट चटका दिए
  3. उन्होने कहा कि वह इस कामयाबी को वह अपने माता-पिता को समर्पित करते हैं
नई दिल्ली:

आईपीएल 2017 के पहले क्वलिफायर मैच में पुणे सुपरजाइंट्स के लिए खेल रहे 17 साल के स्पिन गेंदबाज वाशिंगटन सुंदर ने मुंबई इंडियंस के सपनों को चूर कर दिया. मुंबई इंडियंस टीम पुणे सुपरजाइंट्स से हार गई है. जब मैच शुरू हुआ तो मुंबई इंडियंस के समर्थकों को उम्मीद थी की उनकी टीम पुणे को हरा देगी लेकिन वाशिंगटन सुंदर ने शानदार गेंदबाजी के आगे मुंबई के बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिए. इस पूरे टूर्नामेंट में मुंबई इंडियंस की टीम का शानदार प्रदर्शन रहा है और 10 मैच जीतने के साथ वह पहले स्थान पर थी. पहली पारी में पुणे की टीम ने जब 15 ओवरों में 3 विकेट खोकर सिर्फ 104 ही रन बना पाई तो ऐसा लगा कि वह बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पाएगी. लेकिन इसके बाद महेंद्र सिंह धोनी ने 26 गेंदों में 40 रन ठोंक डाले. धोनी ने शानदार 5 छक्के भी लगाए. पुणे की ओर से सबसे ज्यादा रन मनोज तिवारी 58 रन बनाए जिसमें चार चौके और  2 छक्के शामिल हैं. पुणे की टीम ने आखिरी दो ओवरों में 41 रन बना डाले और जिसके दम पुणे का स्कोर 162 रन पहुंच गया. फिर भी ऐसा लग रहा था कि मुंबई इस मैच को आसानी से जीत जाएगी. 

मुंबई के खिलाफ वाशिंगटन ने किया शानदार प्रदर्शन 
इस मैच में जिस खिलाड़ी ने मुंबई के कमर तोड़ दी वह है वाशिंगटन सुंदर. पुणे के कप्तान स्टीव स्मिथ ने वाशिंगटन सुंदर को दूसरे ही ओवर में गेंद थमा दी. इस ओवर में सुंदर कुछ खास नहीं कर पाए.  मुंबई के सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने उनकी गेंद पर शानदार छक्का भी लगा दिया. पांच ओवर के बाद मुंबई का स्कोर 41 रन था पुणे के गेंदबाज़ विकेट लेने में और रन रोकने में असफल साबित हो रहे थे.

तब स्मिथ ने दोबारा वाशिंगटन सुंदर पर भरोसा जताया. इस ओवर की पहले गेंद पर सुंदर ने मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को आउट कर दिया. अम्बाती रायडू भी खाता खोलने से पहले ही वाशिंगटन सुंदर के शिकार बन गए. इस ओवर में वाशिंगटन सुंदर ने सिर्फ एक रन देकर मुंबई इंडियंस के दो विकेट चटका दिए. इसके बाद तो वाशिंगटन सुंदर की गेंदों पर आगे मुंबई  के गेंदबाज नचाने लगे.


अपने तीसरे ओवर में सुंदर ने पोलार्ड को  भी आउट कर दिया. इस ओवर में सुन्दर ने सिर्फ तीन दिए. अपने स्पेल के आखिरी ओवर में भी सुन्दर ने शानदार गेंदबाजी की और  सिर्फ चार रन दिए. वाशिंगटन सुंदर चार ओवरों में 16 देकर तीन विकेट लिए. यह उनके आईपीएल करियर का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन था जो मुंबई इंडियंस की हार का कारण बना.

सुन्दर के इस शानदार गेंदबाज़ी वजह से मुंबई 20 ओवरों में 9 विकेट पर सिर्फ 142 रन बना पाया और 20 रन से हार गया. मुंबई के तरफ से सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने सबसे ज्यादा 52 रन बनाए. इस जीत के साथ पुणे फाइनल में पहुंच गया है लेकिन मुंबई के पास एक और मौका है.

मैच के बाद सुंदर ने क्या कहा
इस मैच में वाशिंगटन सुंदर मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.  मैच के बाद वाशिंगटन सुंदर ने कहा कि इतनी बड़ी टीम और इतने दर्शकों के सामने अच्छा प्रदर्शन करना खुशी की बात है.  सुंदर ने कहा कि उनके माता-पिता के प्रार्थना के वजह से वह इतना अच्छा प्रदर्शन कर पाए हैं और इस कामयाबी को वह अपने माता-पिता को समर्पित करते हैं.

कौन है वाशिंगटन सुंदर 
वाशिंगटन सुंदर का जन्म 5 अक्टूबर 1999 को चेन्नई में हुआ था. 2016 में तमिलनाडु रणजी टीम में वाशिंगटन सुंदर का चयन हुआ.  6 अक्टूबर 2016 को सुंदर ने अपना पहला प्रथम श्रेणी मैच मुंबई के खिलाफ खेला. इस मैच में वाशिंगटन सुंदर तमिलनाडु के तरफ से ओपनिंग की थी. पहली पारी में सुंदर ने 6 रन और दूसरे पारी में 40 बनाया थे. खास बात यह थी कि  इस मैच में सुंदर गेंदबाज़ी करने के लिए मौक़ा नहीं मिला.

टिप्पणियां

वाशिंगटन सुंदर अब तक पांच प्रथम श्रेणी मैच खेलते हुए करीब 12 के औसत से 87 रन बनाए हैं और  सात विकेट भी ले चुके हैं. 2016 के अंडर-19 वर्ल्ड कप टीम में भी वाशिंगटन सुंदर का चयन हुया था. आयरलैंड के खिलाफ पहले मैच में सुंदर शानदार बल्लेबाजी करते हुए 62 रन बनाए थे. अगर बात आईपीएल की करें तो वाशिंगटन सुंदर को पुणे टीम में मौक़ा रविचंद्रन अश्विन की जगह मिली है. एक ऑल राउंडर के तौर पर वाशिंगटन सुंदर कुछ खास कमाल तो नहीं कर पाए थे लेकिन कल के मैच में के बाद उनकी चर्चा ओर हो रही है.

धोनी की कप्तानी में पुणे हुआ था फ्लॉप ,स्मिथ के कप्तानी में पहुंचा फाइनल में 
2016 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स पहली बार आईपीएल खेला और इस टीम का कमान उस वक्त के टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोने के हाथ में थी. इससे पहले धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान थे और उनकी कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने शानदार प्रदर्शन करते हुए दो बार आईपीएल का ख़िताब जीता था और तीन बार दूसरे नंबर पर रहा. लेकिन धोनी के कप्तानी में पहली साल यानी 2016 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स कुछ खास नहीं कर पाया. अंक तालिका में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स सातवां स्थान पर था ,14 मैचों में से पुणे सिर्फ पांच मैच जीत पाया था.

इस साल 2017 के आईपीएल में धोनी के जगह पर ऑस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ को कप्तान बनाया गया. पुणे अपने पहले मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए मुंबई को 7 विकेट से हराया था लेकिन अगले तीन मैचों में पुणे की करारी हार हुई. ऐसा लगा जैसे 2016 की तरह  पुणे प्ले ऑफ में नहीं पहुंच पाएगा लेकिन पुणे ने शानदार प्रदर्शन करते हुए अगले 10 मैचों में से आठ मैच में जीत हासिल की और इस तरह अंक तालिका में 18 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच गया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement