NDTV Khabar

आईपीएल 10 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के ऑलराउंडर शेन वॉटसन को सता रहा है यह दर्द!

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से खेल रहे ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर क्रिकेटर शेन वॉटसन अपने प्रदर्शन को लेकर खासे निराश है. दरअसल इस सीजन में वॉटसन बल्ले और गेंद दोनों से प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं.

77 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
आईपीएल 10 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के ऑलराउंडर शेन वॉटसन को सता रहा है यह दर्द!

शेन वॉटसन इस सीजन में सात पारियों में वह केवल 67 रन ही बना पाएं हैं...

बेंगलुरू: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से खेल रहे ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर क्रिकेटर शेन वॉटसन अपने प्रदर्शन को लेकर खासे निराश है. दरअसल इस सीजन में वॉटसन बल्ले और गेंद दोनों से प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं. बैंगलोर का खराब प्रदर्शन का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अब तक खेले गए 13 मैचों में से केवल दो में बेंगलोर ने जीत हासिल की है और अगर वह अपने आखिरी मैच में भी हारती है, तो आईपीएल के इतिहास में यह किसी टीम की ओर से किया गया सबसे खराब प्रदर्शन होगा.अपनी हताशा को जाहिर करते हुए वॉटसन ने कहा है कि यह सीजन सबसे बुरा साबित हुआ है. हालांकि, उन्होंने आशा भी जताई कि उनकी टीम रविवार को दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ होने वाले आखिरी ग्रुप मैच को जीतकर सीजन का समापन करना चाहेगी.

टिप्पणियां
वॉटसन का प्रदर्शन भी इस सीजन में कुछ खास नहीं रहा है. टीम के लिए खेली गई सात पारियों में वह केवल 67 रन ही बना पाए हैं. लेकिन वह आखिरी मैच को जीत के साथ अच्छे से समाप्त करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, "इस साल मैंने बेंगलोर के लिए अच्छा प्रदर्शन देने का हर प्रयास किया, लेकिन इस प्रयास का सही फल नहीं मिला. मैं हमेशा सुधार की कोशिश करता हूं. इस साल चीजें मेरे लिए निजी तौर पर भी कुछ अलग रहीं. निश्चित तौर पर जो भी अगला टूर्नामेंट मैं खेलूंगा, उसमें बेहतर करने की कोशिश करूंगा. पिछला साल आईपीएल में शानदार था. हालांकि, यह साल निजी तौर पर भी और टीम के लिए भी सही नहीं रहा. हमारी योजनाओं ने काम नहीं किया. इसलिए, सभी के लिए यह सीजन निराशाजनक रहा." इस सीजन में भले ही वॉटसन अपने और टीम के प्रदर्शन से निराश हों, लेकिन बेंगलोर के प्रशंसकों से मिले समर्थन की उन्होंने सराहना की.

वॉटसन ने कहा, "पिछले दो साल में बैंगलोर के लिए खेलने के दौरान, जिस चीज ने मुझे सबसे अधिक प्रभावित किया, वे हैं टीम के प्रशंसक. वे सभी बहुत ईमानदार हैं. आपने पिछले साल शानदार प्रदर्शन किया हो या इस साल बुरा, लेकिन जहां भी हम गए, प्रशंसकों का समर्थन हमेशा हमारे साथ बराबर बना रहा. यह समर्थन हमें केवल अपने घरेलू मैदान एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में ही देखने को नहीं मिला, बल्कि अन्य मैदानों पर भी प्रशंसकों का यह साथ एकसमान था." वॉटसन ने कहा, "हम कोलकाता खेलने गए, तो वहां भी ईडन गरडस स्टेडियम में हमारे प्रशंसक टीम के समर्थन में नारे लगा रहे थे. यह चीज शानदार थी."
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement