NDTV Khabar

जानिए गुजरात को हराकर हैदराबाद को फाइनल में पहुंचाने में कौन रहे हीरो

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानिए गुजरात को हराकर हैदराबाद को फाइनल में पहुंचाने में कौन रहे हीरो

गुजरात को हराने के बाद डेविड वार्नर ने ऐसे जताई प्रतिक्रिया

नई दिल्‍ली: दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला मैदान पर खेले गए दूसरे क्वालिफ़ायर मैच में सन राइजर्स हैदराबाद ने गुजरात लॉयन्‍स को चार विकेट से हरा दिया। टॉस जीतने के बाद सन राइजर्स हैदराबाद ने पहले गेंदबाज़ी करने का निर्णय लिया।

पहले बल्लेबाजी करते हुए गुजरात लॉयन्‍स ने 19 रन पर कप्तान सुरेश रैना और सलामी बल्लेबाज एकलव्य द्विवेदी का विकेट गंवा दिया था। तीसरे विकेट के लिए ब्रेंडन मैक्कुलम और दिनेश कार्तिक के बीच 34 रन की साझेदारी हुई। लेकिन जब गुजरात का स्कोर 63 रन था तब दिनेश कार्तिक 26 रन पर रन आउट हो गए। फिर मैक्कुलम और ड्वेन स्मिथ के जल्दी-जल्दी आउट हो जाने की वजह से गुजरात ने सिर्फ 83 पर पांच विकेट गवां दिए थे।

एरॉन फिंच की अच्छी पारी
एरॉन फिंच ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया और गुजरात पारी को आगे ले गए। फिंच ने 32 गेंदों सामना करते हुए दो छक्के और सात चौके की मदद से 50 रन बनाए। फिंच और रवींद्र जडेजा के बीच 51 रन की शानदार साझेदारी हुई। रवींद्र जडेजा 19 रन पर नाबाद रहे। गुजरात लॉयन्‍स की तरफ से ड्वेन ब्रावो भी सिर्फ 10 गेंदों का सामना करते हुए 20 रन ही बना सके। इन बल्लेबाज़ों की अच्छी बल्लेबाजी की वजह से गुजरात की टीम 162 रन तक पहुंच गई।

हैदराबाद के लिए कौन रहा हीरो
गुजरात की तरह हैदराबाद ने भी जल्दी-जल्दी विकेट गंवाते हुए सिर्फ 84 रन पर पांच विकेट खो दिए थे लेकिन हैदराबाद के लिए कप्तान डेविड वार्नर ने शानदार बल्लेबाजी की। वार्नर सलामी बल्लेबाज के रूप में बल्लेबाजी करने आए और अंतिम तक नॉट-आउट रहकर अपनी टीम को जिताया। वार्नर ने सिर्फ 58 गेंदों सामना करते हुए 93 रन बनाए जिसमें तीन छक्के और 11 चौके शामिल थे। गुजरात की तरफ से विपुल शर्मा ने भी तेज खेलते हुए सिर्फ 11 गेंदों का सामना करते हुए 27 रन बनाए जिसमें तीन शानदार छक्के शामिल थे। वार्नर और विपुल गुजरात के लिए हीरो रहे। आखिरी ओवर में हैदराबाद को सिर्फ 5 रन की जरूरत थी और डेविड वार्नर ने लगातार दो चौके लगाते हुए हैदराबाद को जीत दिला दी।

गुजरात के लिए क्या रही हार की वजह
गुजरात की शुरुआत अच्छी नहीं रही। गुजरात के पास शानदार बल्लेबाज होते हुए भी रैना की टीम अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाई। एरॉन फिंच और ब्रेंडन मैक्कुलम को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज नहीं चल पाया। कप्तान सुरेश रैना का जल्दी आउट हो जाना गुजरात के लिए घातक साबित हुआ। दिनेश कार्तिक का रन आउट मैच का टर्निंग प्‍वाइंट था। कार्तिक के रन आउट हो जाने के बाद टीम के ऊपर दबाव बढ़ गया।

टिप्पणियां
प्रवीण कुमार और स्मिथ की ख़राब गेंदबाजी
अगर गेंदबाज़ी की बात की जाए तो गुजरात की तरफ से प्रवीण कुमार और ड्वेन स्मिथ ने काफी ख़राब गेंदबाज़ी की। प्रवीण कुमार ने सिर्फ 3.2 ओवर गेंदबाज़ी की और 32 रन दिए जबकि स्मिथ ने सिर्फ दो ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 28 रन दिए। दोनों गेंदबाज़ों ने कुल मिलाकर 5.2 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 60 रन दे दिए जिसकी वजह से हैदराबाद के ऊपर दवाब हट गया और हैदराबाद मैच जीत गया।

मैच के बाद क्या बोले दोनों कप्तान
सुरेश रैना ने ख़राब गेंदबाज़ी को हार की वजह माना। रैना कहना था कि 162 रन के स्कोर को उनकी टीम डिफेंड कर सकती थी। रैना ने डेविड वार्नर की पारी की तारीफ की। रैना ने युवा गेंदबाज शिविल कौशिक की भी तारीफ की। आपको बता दें कि गुजरात के तरफ से खेलने वाले शिविल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए चार ओवरों में 22 रन देकर दो विकेट हासिल किये। डेविड वार्नर ने विपुल शर्मा की काफी तारीफ़ की। वार्नर का कहना था कि विपुल ने जिस तरह खेला वह शानदार था और सबसे ज्यादा श्रेय विपुल को जाता है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement