NDTV Khabar

IPL-9 : जानें किसे मिला कौन सा पुरस्‍कार और अपने रिकॉर्ड के बारे में क्या बोले विराट कोहली

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL-9 : जानें किसे मिला कौन सा पुरस्‍कार और अपने रिकॉर्ड के बारे में क्या बोले विराट कोहली

विराट कोहली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: रविवार को आईपीएल का फाइनल मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइज़र्स हैदराबाद के बीच खेला गया। हैदराबाद ने शानदार खेलते हुए बैंगलोर को 8 रन से हराया और पहली बार आईपीएल जीतने का गौरव हासिल किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने 208 रन बनाए थे और बैंगलोर 20 ओवर में 200 तक ही पहुंच पाया और 8 रन से हार गया।  हैदराबाद की ओर से कप्तान डेविड वार्नर ने सबसे ज्यादा 69 रन बनाए जबकि बैंगलोर की तरफ से क्रिस गेल ने 76 रन की पारी खेली। दोनों ने ही यह रन 38 गेंदों पर ठोके थे। हम सब जानते हैं कि आईपीएल में टीम के जीतने के अलावा भी कई पुरस्कार दिए जाते हैं। आइए जानते हैं इस आईपीएल सीजन में किस खिलाड़ी को कौन सा पुरस्कार मिला...

विराट कोहली को मिले सबसे ज्यादा अवार्ड
आईपीएल में शानदार प्रदर्शन की वजह से विराट कोहली को कई अवार्ड मिले। विराट कोहली ने इस संस्करण में सबसे ज्यादा 974 रन बनाए जिसकी वजह से उन्हें सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज का पुरस्कार मिला और कोहली ऑरेंज कैप के हक़दार बन गए। कोहली को सर्वश्रेष्ठ मूल्यवान खिलाड़ी का अवार्ड भी मिला। इतना ही नहीं, टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 36 छक्के मारने की वजह से कोहली को 10 लाख रुपये देकर भी सम्मानित किया गया।

भुवनेश्वर  कुमार को मिली पर्पल कैप
पूरे टूर्नामेंट में शानदार गेंदबाज़ी की वजह से भुवनेश्वर कुमार को पर्पल कैप के साथ-साथ 10 लाख रुपये भी मिले। पर्पल कैप उस गेंदबाज़ को दी जाती है जिसने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का गौरव हासिल किया हो। भुवनेश्वर कुमार ने 17 मैच खेलते हुए सबसे ज्यादा 23 विकेट हासिल किए।

दूसरे खिलाड़ियों को भी कई अवार्ड मिले
सर्वश्रेष्ठ कैच का आवर्ड सुरेश रैना को मिला। इस संस्करण में इमर्जिंग खिलाड़ी का ख़िताब सनराइज़र्स हैदराबाद के गेंदबाज़ मुस्तफिजुर रहमान को मिला। वोडाफोन सुपरफ़ास्ट अर्द्धशतक के लिए क्रिस मॉरिस को सम्मानित किया गया। मॉरिस ने इस आईपीएल संस्करण में सबसे ज्यादा तेज़ अर्द्धशतक ठोके थे। गुजरात लायंस के खिलाफ मॉरिस ने सिर्फ 17 गेंदों पर अर्द्धशतक जमाया था। “फ्रीचार्ज बोल्ट सीजन” अवार्ड एबी डिविलियर्स को मिला। यह अवार्ड पूरे टूर्नामेंट में शानदार फील्डिंग के लिए दिया जाता है।    

टिप्पणियां
अपने रिकॉर्ड के बारे में क्या बोले कोहली
पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान जब कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने कोहली से पूछा कि क्या एक संस्करण में उनके द्वारा बनाए गए सबसे ज्यादा 974 रन का रिकॉर्ड कोई तोड़ पाएगा तो कोहली ने जवाब दिया क्यों नहीं। रिकॉर्ड तोड़ने के लिए बनाए जाते हैं,अगर कोई एक संस्करण में उनसे ज्यादा अच्छा खेला तो रिकॉर्ड टूट सकता है। कोहली का कहना था कि पहले 740 का रिकॉर्ड बहुत बड़ा लगता था, लेकिन अगर कोई सिर्फ अच्छा खेलते हुए अपनी टीम को जीताना चाहता है तो रन बनाने के साथ-साथ रिकॉर्ड भी बनते जाएंगे।  

अपने चार शतक के बारे में क्या रहा कोहली का जवाब
संजय मांजेरकर ने जब एक संस्करण में सबसे ज्यादा चार शतक लगाए जाने के बारे में पूछा तो कोहली का कहना था कि इन चार शतकों को लेकर वह खुद आश्चर्य में है, कोहली ने कहा, उनका मुख्य मकसद था टीम के लिए एक अच्छा स्कोर खड़ा करना और इस प्रक्रिया में वह यह रिकॉर्ड बनाते गए। जाते-जाते कोहली यह भी बोलते गए कि यह भी ध्यान रखना चाहिए कि वह सलामी बल्लेबाज के रूप में बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्हें ज्यादा गेंद खेलने का मौका मिल रहा था जो दूसरे या तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए बल्लेबाजों को नहीं मिलता है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement