NDTV Khabar

IPL9 : मैदान पर प्रवीण कुमार और डेविड वॉर्नर के बीच की तनातनी..

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IPL9 : मैदान पर प्रवीण कुमार और डेविड वॉर्नर के बीच की तनातनी..

प्रवीण कुमार और डेविड वॉर्नर के बीच मैदान पर बहस हो गई

नई दिल्ली: दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला मैदान पर खेले गए दूसरे क्वालिफ़ायर मैच में सन राइजर्स हैदराबाद ने गुजरात लॉयन्‍स को चार विकेट से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए गुजरात लॉयन्‍स ने निर्धारित 20 ओवरों में  सात विकेट पर 162 बनाए। गुजरात की तरफ से आरॉन फिंच ने 32 गेंदों का सामना करते हुए दो छक्के और सात चौके की मदद से सर्वाधिक 50 रन बनाए। 163 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए हैदराबाद ने चार विकेट से यह मैच जीत लिया और फाइनल में पहुंच गया। हैदराबाद की तरफ से कप्तान वॉर्नर ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 93 बनाए जिसमें तीन छक्के और 11 चौके शामिल थे।

प्रवीण कुमार Vs डेविड वॉर्नर
गुजरात की तरफ से प्रवीण कुमार ने 17 ओवर की अंतिम गेंद डेविड वॉर्नर को डाली। वॉर्नर ने प्रवीण कुमार की तरफ सीधा खेला, प्रवीण ने गेंद को दो बार स्टंप की तरफ फेंकने की कोशिश की लेकिन वॉर्नर स्टंप के सामने खड़े हुए थे और हट नहीं रहे थे। उन्होंने सिर हिलाते हुए प्रवीण कुमार को कुछ बोल दिया, प्रवीण गुस्से में 'व्हाट' 'व्हाट' बोलते हुए वॉर्नर की तरफ बढ़े। ऐसा लग रहा था जैसे दोनों के बीच लड़ाई हो जाएगी लेकिन विकेट कीपर दिनेश कार्तिक दौड़ के आए और उन्होंने प्रवीण कुमार को रोक दिया।
 
हरभजन और रायडू के बीच भी ऐसी तनातनी हो चुकी है

वॉर्नर का जवाब
फिर मैच के आखिर ओवर में गुजरात की तरफ से प्रवीण कुमार गेंदबाज़ी करने आए और डेविड वॉर्नर स्ट्राइक पर थे। उम्मीद थी कि कुछ शानदार शॉट्स खेलते हुए वॉर्नर बदला लेंगे और ऐसा ही हुआ। जीतने के लिए आखिरी ओवर में हैदराबाद को पांच रन की जरुरत थी। प्रवीण कुमार की पहली गेंद पर वॉर्नर ने शानदार चौक मारा, फिर दूसरी गेंद को भी बाउंड्री लाइन के बाहर पहुंचाया और हैदराबाद को जीत दिलाते हुए बल्ले को ऊपर करते हुए वॉर्नर कूदने लगे।

पहले भी हो चुका है पंगा
वेस्टइंडीज के ड्वेन ब्रावो और पोलार्ड  के बीच भी कुछ ऐसा हुआ था। 21 मई को कानपूर के मैदान पर गुजरात लायंस और मुंबई इंडियन्स के बीच हुए मैच में ड्वेन ब्रावो और कीरोन पोलार्ड के बीच हंसी मज़ाक में कुछ ऐसा हो गया था जिसके वजह से ब्रावो की 50 प्रतिशत मैच फीस जुर्माने के रूप में काट ली गई थी। मामला ऐसा था की ब्रावो जब मुंबई की तरफ से 14 ओवर की आखिरी गेंद डाल रहे थे तब पोलार्ड स्ट्राइक पर थे।  ब्रावो एक छोटी गेंद फेंकने के बाद पोलार्ड की तरफ बढ़े, पोलार्ड भी कहां रुकने वाले थे, पोलार्ड ने अपना बल्ला ऊपर करते हुए यह दिखाने की कोशिश की कि वह ब्रावो को अपने बल्ले से मार भी सकते हैं। ब्रावो भी डरने वाले नहीं थे वह आगे बढ़ते गए और जाकर पोलार्ड के छाती से टकरा गए।

टिप्पणियां
ट्विटर पर जवाब
मैच के बाद ब्रावो को ट्वीट करते हुए यह बताना पड़ा की वह और पोलार्ड मैदान और मैदान के बाहर भी सबसे अच्छे दोस्त है और ऐसे छोटे मोटे झगड़े को अपने एजेंडे के मुताबिक समझा जा रहा है। पोलार्ड भी ब्रावो की समर्थन में आगे आए और ट्विटर के जरिए लिखा की ब्रावो के ऊपर जुर्माना लगाना सबसे मूर्खतापूर्ण निर्णय है। पोलार्ड का कहना था अगर ऐसे जुर्माना लगाया जायेगा तो फिर यह खेल रोबोटिक बन जायेगा जहां न जोश होगा न कोई भाव।

हरभजन Vs रायडू
1 मई को मुंबई इंडियन्स और पुणे सुपरजाइंट्स के बीच हुए मैच में हरभजन सिंह जब गेंदबाज़ी कर रहे थे तब अम्बाती रायडू की मिस फील्डिंग की वजह से गेंद बाउंड्री लाइन के बाहर चली गई थी। हरभजन सिंह को गुस्सा आ गया और वह गुस्से में रायडू की तरफ देखते हुए कुछ बोले, फिर दोनों खिलाड़ी एक दूसरे की तरफ बढ़े, ऐसा लग रहा था कि कहीं लड़ाई न हो जाए। लेकिन हरभजन सिंह ने परिपक्वता दिखाते हुए रायडू को समझाया और दोनों अपनी-अपनी जगह वापस चले गए। मैच के बाद रोहित शर्मा को पुरस्कार वितरण समारोह के समय बोलना पड़ा कि यह सब मैच में होता रहता है। दोनों काफी सीनियर खिलाड़ी हैं। रोहित ने यह भी कहा कि ऐसा आगे न हो इसे लेकर वह खिलाड़ियों को समझाएंगे।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement