NDTV Khabar

बीजेपी के पास अच्छा आंतरिक पार्टी लोकतंत्र है : तीन दिवसीय दौरे पर जयपुर पहुंचे अमित शाह ने कहा

अमित शाह ने कहा, 'जिस वक्‍त जनसंघ का गठन हुआ, वह एक वैकल्पिक विचारधारा वाली पार्टी थी, जिसमें पश्चिमी विचारधारा का प्रभुत्व नहीं था'.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी के पास अच्छा आंतरिक पार्टी लोकतंत्र है : तीन दिवसीय दौरे पर जयपुर पहुंचे अमित शाह ने कहा

अमित शाह का जयपुर में पार्टी मुख्यालय पहुंचने पर पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया.

खास बातें

  1. बहुत कम पार्टियों के पास अच्छा आंतरिक पार्टी लोकतंत्र नहीं है- अमित शाह
  2. मेरे बाद पार्टी अध्यक्ष कौन होगा?- अमित शाह
  3. शाह ने राजस्‍थान के वरिष्‍ठ पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक की.
जयपुर: तीन दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को जयपुर पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि 'संसदीय लोकतंत्र में पार्टी महत्वपूर्ण है. बहुत कम बुद्धिजीवियों ने राजनीतिक दलों और उनकी विचारधारा के बारे में सोचा है... बहुत कम पार्टियों के पास अच्छा आंतरिक पार्टी लोकतंत्र नहीं है, लेकिन बीजेपी के पास अच्छा आंतरिक पार्टी लोकतंत्र है'. 

यहां शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि 'मेरे पास एक प्रश्न है.. मेरे बाद पार्टी अध्यक्ष कौन होगा? आप नहीं बता सकते हैं, लेकिन कांग्रेस में आप जानते हैं कि सोनिया गांधी के बाद राहुल गांधी पार्टी अध्‍यक्ष होंगे'. उन्‍होंने कहा कि भाजपा में इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कौन से परिवार से हैं. मैंने अपने कैरियर को बूथ अध्‍यक्ष के रूप में शुरू किया था और आज मैं राष्ट्रीय अध्‍यक्ष हूं. यहां तक की पीएम नरेंद्र मोदी पहले एक चाय विक्रेता थे, लेकिन आज प्रधानमंत्री हैं'. 

शाह ने आगे कहा, 'जिस वक्‍त जनसंघ का गठन हुआ, वह एक वैकल्पिक विचारधारा वाली पार्टी थी, जिसमें पश्चिमी विचारधारा का प्रभुत्व नहीं था'.

ये भी पढ़ें...
राष्ट्रपति चुनाव के बाद वसुंधरा सरकार की साख पर उठे सवाल, अमित शाह आज संभालेंगे मोर्चा

दरअसल, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का तीन दिन का जयपुर प्रवास शुक्रवार से आरंभ हो गया. शाह ने तय समय अनुसार पार्टी प्रदेश मुख्यालय पहुंचकर अगले साल राजस्थान के होने वाले विधानसभा चुनाव और वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में पार्टी को धमाकेदार जीत दिलाने के लिए आवश्यक दिशानिर्देश दिए.

शाह ने बैठक के दौरान मुख्यमंत्री, मंत्रिमंडल सदस्यों, पार्टी विधायकों और वरिष्ठ पदाधिकारियों की अलग-अलग और एक साथ बैठक लेकर उनकी बात सुनी. पार्टी विधायकों की बैठक में वरिष्ठ नेता ओमप्रकाश माथुर, भूपेन्द्र यादव, वी सतीश समेत अन्य नेता मौजूद रहे. अमित शाह ने पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर तय कार्यक्रम के अनुसार बिना समय गंवाये बेठकों का दौर शुरू कर दिया था. बैठकों में किसने क्या कहा.. पार्टी पदाधिकारी मौन है.

ये भी पढ़ें...
बिहार पर अमित शाह के इस बयान से बढ़ सकती है लालू प्रसाद यादव की टेंशन!

इससे पहले भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के तीन दिन के जयपुर दौरे पर पहुंचने पर सांगानेर हवाई अड्डे पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी ने अगवानी कर भव्य स्वागत किया. राजस्थानी परंपराओं से लबलेज स्वागत कार्यक्रमों के बीच शाह ने स्वागत मार्ग में गांधी सर्किल पर और अंबेडकर सर्किल पर बापू और अंबेडकर को श्रद्वाजंलि दी.

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच हवाई अड्डे से शाह जुलूस के रूप में भाजपा प्रदेश मुख्यालय की ओर रवाना हुए. सड़क के दोनों और खडे़ हजारों कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री के समर्थन में नारे लगाते हुए स्वागत किया. इनमें महिलाओं की संख्या काफी थी. 

ये भी पढ़ें...
कांग्रेस, आप, पाटीदारों की चुनौती के बीच भाजपा का गुजरात में 'मिशन 150'

जयपुर को इस मौके पर जबरदस्त ढंग से सजाया गया है. पार्टीध्वज और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बड़े-बड़े कटआउट और बैनर लगाए गए हैं. शाह के काफिले के आगे मोटरसाइकिल पर युवा कार्यकर्ताओं का काफिला चल रहा था.

शाह तीन दिन के कार्यक्रम के दौरान सत्ता और संगठन के बीच तालमेल, संगठनात्मक मुद्दों पर मंथन करने के अलावा भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी, कोर कमेटी, मंत्रिमंडल सदस्यों, राज्यसभा, लोकसभा सांसदों, राजस्थान से केन्द्रीय मंत्री, विधायकों और पार्टी मोर्चा, प्रकल्प, विभाग प्रमुखों, पंचायत राज, जिला अध्यक्षों, जिला संगठन प्रभारियों, सभी धर्म गुरूओं, सोशल मीडिया प्रकोष्ठ, मीडिया प्रकोष्ठ, पार्टी विस्तारकों, नगर निकाय के प्रमुखों से संगठनात्मक मुद्दों की जानकारी प्राप्त करेंगे. शाह जयपुर प्रवास के दौरान राज्य के प्रत्येक जिले से बुलाए गए बीस-बीस प्रबुद्ध नागरिकों को भी संबोधित और उनसे संवाद करेंगे. शाह जयपुर प्रवास के दौरान पार्टी प्रदेश मुख्यालय में ई-लाईब्रेरी का लोकार्पण करेंगे.



शाह के प्रदेश पार्टी मुख्यालय पर पहुंचने पर पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया. शाह ने बाद में पार्टी कार्यालय में नवस्थापित ई लाईब्रेरी का दीप प्रज्‍ज्‍वलित कर लोकार्पण किया. अमित शाह ने ई लाईब्रेरी का लोकार्पण करने के बाद कार्यप्रणाली जानी और पुस्तिकाएं देखीं.

भाजपा मुख्यालय में नानाजी देशमुख पुस्तकालय और ई-पुस्तकालय में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण अडवाणी, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम सहित कई महान हस्तियों महात्मा गांधी, सरदार पटेल, वीर सावरकर, स्वामी विवेकानंद, दीनदयाल उपाध्याय, डॉ. बी.आर अंबेडकर पर पुस्तकें उपलब्ध हैं.

पुस्तकालय के प्रभारी वरिष्ठ नेता बीरू राठौड़ ने बताया कि पुस्तकालय में दो हजार पुस्तकें और 8,400 ई-पुस्तकें उपलब्ध हैं.

टिप्पणियां
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी के अनुसार संभवत: शाह कल (शनिवार को) किसी दलित परिवार के साथ भोजन करेंगे. हालांकि सुरक्षा कारणों से स्थान और परिवार की सूचना को गुप्त रखा गया है.

शाह के जयपुर दौरे को देखते हुए पार्टी प्रदेश मुख्यालय का सौंदर्यीकरण किया गया है और सजाया संवारा गया है.
इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement