कश्मीर में पत्‍थरबाजों से अब निपटेंगी सीआरपीएफ की महिला कर्मी

ये महिलाकर्मी जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के हमहामा में सीआरपीएफ के भर्ती प्रशिक्षण केंद्र में हैं और उन्हें दंगे एवं आतंकवाद निरोधक अभियानों का प्रशिक्षिण दिया जा रहा है.

कश्मीर में पत्‍थरबाजों से अब निपटेंगी सीआरपीएफ की महिला कर्मी

श्रीनगर:

एक और कीर्तिमान स्थापित करते हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 500 महिला कर्मियों की एक विशेष टुकड़ी नियमित ड्यूटी, उग्र भीड़ और पथराव करने वालों से निबटने के लिए कश्मीर घाटी में लायी गयी है. एक वरिष्ठ सीआरपीएफ अधिकारी ने यह जानकारी दी है. ये महिलाकर्मी जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के हमहामा में सीआरपीएफ के भर्ती प्रशिक्षण केंद्र में हैं और उन्हें दंगे एवं आतंकवाद निरोधक अभियानों का प्रशिक्षिण दिया जा रहा है. उनमें ज्यादा महिलाएं कांस्टेबल रैंक की हैं.

अधिकारी ने कहा, ‘‘यह अभियान का नवीनतम मंच है जहां महिला कर्मियों को लाया गया है. कश्मीर घाटी में महिलाकर्मियों की यह पहली टीम है. कुछ साल पहले सीआरपीएफ की महिलाकर्मियों को छत्तीसगढ़ एवं झारखंड के नक्सल विरोधी अभियानों में शामिल किया गया था.’’

उन्होंने बताया कि 45 दिनों के प्रशिक्षण के बाद इन महिलाओं को पथराव करने वालों और प्रदर्शनकारियों से निबटने के लिए घाटी में तैनात किया जाएगा. माना जा रहा था कि सीआरपीएफ की विशेष दंगा निरोधक शाखा आरएएफ को हिंसक प्रदर्शनों एवं पथराव की घटनाओं से निबटने के लिए लाया जा सकता है लेकिन इसे व्यवहारिक नहीं पाया गया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com