NDTV Khabar

आजादी कश्मीर घाटी के लिए विकल्प नहीं : फारुख अब्दुल्ला

फारुख अब्दुल्ला ने कहा, 'हमारे पास न परमाणु बम है, न सेना है और न लड़ाकू विमान हैं.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आजादी कश्मीर घाटी के लिए विकल्प नहीं : फारुख अब्दुल्ला

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ( फाइल फोटो )

खास बातें

  1. फारुख अब्दुल्ला जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम हैं
  2. अभी लोकसभा सांसद हैं
  3. पुंछ में हुई रैली में कही है ये बात
श्रीनगर:

जम्मू एवं कश्मीर  से लोकसभा सदस्य फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि भारत, पाकिस्तान और चीन के बीच में स्थित होने के कारण घाटी के लिए आजादी कोई विकल्प नहीं है. पुंछ जिले के मंडी इलाके में पार्टी की एक सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री फारूक ने कहा, "आजादी कोई विकल्प नहीं है. एक तरफ चीन और पाकिस्तान जैसी परमाणु शक्तियां हैं, और दूसरी तरफ हमारे पास भारत है."

फारुख अब्दुल्ला ने बीजेपी और आरएसएस को दी नसीहत, धार्मिक आधारों पर देश को बांटना घातक

उन्होंने कहा, "हमारे पास न परमाणु बम है, न सेना है और न लड़ाकू विमान हैं. स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में हम कैसे जिंदा रह पाएंगे? लेकिन इसका मतलब यह भी नहीं कि हम भारत के गुलाम हैं."  नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक ने कहा कि भारत को हरहाल में यहां के लोगों की गरिमा का आदर और सम्मान करना होगा, अन्यथा कश्मीर के हालात नहीं बदलेंगे.


टिप्पणियां

वीडियो : क्या है अनुच्छेद 35-ए

उन्होंने केंद्र से आग्रह किया कि वह यहां के लोगों के दिल और दिमाग जीतने की कोशिश करे, क्योंकि सोने की भी सड़क बना देने से कुछ नहीं होगा. फारूक ने पड़ोसी पाकिस्तान की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि कश्मीर समस्या का समाधान बंदूक से नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी समस्याएं नहीं सुलझा पा रहा है, "फिर वह हमारे लिए क्या करेगा"? 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement