NDTV Khabar

घाटी में भारी बारिश की वजह से मध्य कश्मीर में बाढ़ की चेतावनी जारी

शनिवार को श्रीनगर सहित मध्य कश्मीर के निचले इलाकों में भी बाढ़ की चेतावनी जारी करते हुए लोगों को सतर्क रहने को कहा गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
घाटी में भारी बारिश की वजह से मध्य कश्मीर में बाढ़ की चेतावनी जारी

जम्मू-कश्मीर में बाढ़ को लेकर जारी हुआ अलर्ट

खास बातें

  1. कश्मीर में नदियों का बढ़ रहा है स्तर
  2. श्रीनगर में भी नदियां खतरे के निशान से पार
  3. आम लोगों को भी सावधानी बरतने को कहा गया है
नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में रुक - रुक कर हो रही बारिश की वजह से घाटी के कई इलाकों में बाढ़ की चेतावनी जारी कर दी गई है. अधिकारियों ने शुक्रवार को दक्षिण कश्मीर में बाढ़ की चेतावनी जारी की थी. शनिवार को श्रीनगर सहित मध्य कश्मीर के निचले इलाकों में भी बाढ़ की चेतावनी जारी करते हुए लोगों को सतर्क रहने को कहा गया है. गौरतलब है कि घाटी में खराब मौसम की वजह से स्कूलों को बंद रखने का आदेश जारी किया गया है. सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि राम मुंशी बाग पर शनिवार सुबह 10 बजे पानी 18 फुट के खतरे के निशान से ऊपर बह रहा था.

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में स्थगित नहीं होंगे चुनाव : सुप्रीम कोर्ट

राज्य में झेलम नदी और अन्य नदियों के तटबंधीय इलाकों में रहने वालों और मध्य कश्मीर के निचले इलाकों में रहने वाले लोगों का सतर्क रहने की सलाह दी गई है. अधिकारी ने कहा कि मध्य कश्मीर में बाढ़ संबंधी कार्य के लिए तैनात कर्मियों को अपने सेक्टर एवं बीट्स में रिपोर्ट करने का कहा गया है. श्रीनगर के उपायुक्त सैयद आबिद राशीद शाह ने कहा कि निचले इलाके और श्रीनगर में झेलम नदी के तट पर रहने वाले लोगों से सतर्क रहने और निकास के लिए तैयार रहने का अनुरोध किया गया है.

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में बाढ़ राहत को लेकर उमर सरकार पर उठे गंभीर सवाल

टिप्पणियां
उन्होंने कहा कि श्रीनगर के निचले इलाकों में हमने बाढ़ संबंधी चेतावनी जारी की है. गौरतलब है कि कश्मीर में 2014 में भी बाढ़ आई थी. उस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी घाटी के बाढ़ पीड़ितों के साथ दिवाली का दिन बिताने के लिए श्रीनगर पहुंचे थे. यहां प्रधानमंत्री ने कश्मीर में बाढ़ से तबाह हुए घरों के पुनर्निर्माण के लिए 570 करोड़ रुपये और बाढ़ से सर्वाधिक प्रभावित हुए अस्पतालों के लिए 175 करोड़ रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा भी की थी.

VIDEO: जम्मू-कश्मीर में बाढ़ की चेतावनी जारी. 

प्रधानमंत्री ने इसके साथ ही हजारों स्कूली छात्रों को किताबें-कॉपियां मुहैया कराने की भी घोषणा की थी.प्रधानमंत्री ने यहां बाढ़ पीड़ितों का दर्द बांटते हुए कहा था कि भारत जम्मू कश्मीर के दर्द में बराबर का शरीक है.सरकार लोगों के पुनर्वास के प्रयासों में उनके साथ खड़ी है.(इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement