NDTV Khabar

घाटी में और फिदायीन हमले की फिराक में हैं आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद

आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों के ताबड़तोड़ ऑपरेशन से बौखलाया आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद घाटी में फिदायीन हमले की फिराक में है.

115 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
घाटी में और फिदायीन हमले की फिराक में हैं आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. सुरक्षाबलों के ताबड़तोड़ ऑपरेशन से बौखलाया आतंकी संगठन
  2. सूत्रों के अनुसार जैश के 6 आतंकी इन दिनों घाटी में छिपे हैं
  3. इन्हीं आतंकियों के ग्रुप ने मंगलवार को BSF कैंप पर हमला किया था
नई दिल्ली: आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों के ताबड़तोड़ ऑपरेशन से बौखलाया आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद घाटी में और फिदायीन हमले की फिराक में है. सूत्रों के अनुसार जैश के 6 आतंकी इन दिनों घाटी में छिपे हैं और हमले की तैयारी कर रहे हैं. सूत्रों की माने तो इन्हीं आतंकियों के एक ग्रुप ने मंगलवार को BSF कैंप पर हमला किया था. 

यह भी पढ़ें : श्रीनगर में बीएसएफ कैंप पर आतंकी हमला : क्या टारगेट पर थे NIA के अफसर?

अलग-अलग ग्रुप में बंटे हैं आतंकी
सूत्रों के मुताबिक कुल 12 फिदायीन आतंकी चार अलग-अलग ग्रुप में बंट गए थे. ये इसी साल जुलाई में बारामुला के रास्ते घुसपैठ करके आए थे. जब से ये आतंकी कश्मीर आएं हैं किसी छोटे हमले को अंजाम नहीं दिया है. ये हमेशा बड़े हमले की फिराक में रहते हैं. तीन आतंकियों को पहले ही 26 अगस्त को पुलवामा के पुलिस कैंप पर हुए हमले के दौरान मार गिराया गया था. उस दौरान आठ सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे.

यह भी पढ़ें : श्रीनगर में एयरपोर्ट के पास स्थित BSF कैंप पर आत्मघाती हमला, तीन आतंकी ढेर, ASI शहीद

बाकी बचे 9 में से तीन आतंकियों के एक गुट ने बीएसएफ कैंप पर हमला किया. इस हमले से पहले आतंकियों ने 4 से 5 दिन तक इलाके का जायजा लिया था. इसी गुट ने पहले अवंतीपुरा और ओल्ड एयर फ़ील्ड की भी रेकी की थी. फिलहाल बाकी बचे 6 आतंकी दो अलग-अलग गुटों में घाटी में बंट गए हैं. इनमें से 4 आतंकी विदेशी हैं. 

VIDEO: जम्मू-कश्मीर में CRPF कैंप पर आतंकी हमला, चार आतंकी ढेर

जल्द ही मार गिराया जाएगा आतंकियों को 
सूत्रों की मानें तो बचे दो ग्रुप में से एक ग्रुप शोपियां और पुलवामा के आस-पास और एक ग्रुप अनंतनाग और कुलगाम के पास किसी बड़े हमले को अंजाम देने की फ़िराक़ में है. इन 6 आतंकियो में से 4 विदेशी हैं जिनका कमांडर ख़ालिद है. खालिद ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ली है. वह इस समय नॉर्थ कश्मीर के सोपोर इलाक़े में एक्टिव है. बताया जा रहा है कि एक महीने पहले पुलवामा में हुए पुलिस लाइन पर हमले के पीछे ख़ालिद का हाथ था. 

यह भी पढ़ें : सोपोर में आतंकियों के छुपे होने की खबर के बाद सुरक्षा बलों का सर्च ऑपरेशन

सूत्रों के मुताबिक़ जैश के 10 से 12 आतंकी इस समय घाटी में टारगेट तय करके आते हैं और सटीक हमला करते हैं. इस समय वह घाटी में अपने खोए हुए वजूद को पाने के लिए फिदायीन हमलों को अंजाम दे रहे हैं. कश्मीर रेंज के आईजी मुनीर खान ने भी कहा है कि सुरक्षाबलों को इन 6 खूंखार आतंकियो की तलाश है और जल्द ही इन्हें मार गिराया जाएगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement