NDTV Khabar

जम्मू में सेना के कैंप पर आतंकी हमला : 3 आतंकवादी ढेर, दो जवान शहीद, ऑपरेशन जारी

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस संबंध में जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख से बातचीत की तथा जम्मू में सेना के शिविर पर हुए आतंकी हमले से उपजे हालात का जायजा लिया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू में सेना के कैंप पर आतंकी हमला : 3 आतंकवादी ढेर, दो जवान शहीद, ऑपरेशन जारी

जम्मू कश्मीर : आर्मी कैंप पर आतंकी हमला

खास बातें

  1. जम्मू से करीब दस किलोमीटर दूर सुनजवां कैम्प पर आतंकी
  2. सेना से मिली जानकारी के मुताबिक आतंकी सुनजवां कैम्प में घुस गए
  3. फायरिंग में 1 के मारे जाने की खबर आ रही है
जम्मू: जम्मू के सेना के सुनजवां कैम्प पर हुए फिदायीन हमले में शामिल आतंकियां को मार गिराने के लिये अंतिम कार्रवाई जारी है. अब तक फाइनल असॉल्ट में सेना को तीन फिदायीनों को मार गिराने में कामयाबी मिली है. बचे हुए आतंकियों की तलाश जारी है.  रात होने के साथ ही गोलीबारी तो बंद हो चुकी है पर आतंकियों की तलाश जारी है. इस हमले मे कुल पांच लोगों की मौत हुई है. इनमें तीन फिदायीन और सेना के दो अधिकारी शामिल हैं. दर्जनों घायल हो गए हैं. शहीद जवानों की पहचान मदनलाल और मोहम्मद अशरफ के तौर पर हुई है. आतंकियों की फायरिंग में एक हवलदार की बेटी भी गंभीर रूप से घायल हो गयी जबकि पांच जवानों समेत कुल 12 लोग घायल बताए जा रहे हैं. इसमे दो की हालत गंभीर है.

सेना के मुताबिक इस करवाई में जैश के तीन आतंकियों को मार गिराया गया है. मारे गए आतंकियों के पास से एके-56 राइफल, ग्रेनेड और भारी मात्रा में गोला बारूद बरामद किया गया है. मारे गए आतंकियों ने युद्ध में इस्तेमाल होने वाले यूनिफॉर्म पहन रखे थे. आतंकियो के पास से जैश का झंडा भी मिला है. सेना ने इस बात की भी पुष्टि की है कि हमले में शामिल आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के ही हैं.

सुनजवां में सेना के कैंप पर हुए हमले के बाद पिछले 16 घंटों से पैरा कमांडो, राष्ट्रीय राइफल्स और एसओजी की संयुक्त कार्रवाई की जा रही है. सुबह 5 बजे से चल रही इस कार्रवाई के मद्देनजर कैंप के आसपास के तमाम इलाकों को सील कर दिया गया है. सेना से मिली जानकारी के अनुसार सेना ने कैंप के अन्दर मौजूद करीब 150 मकान खाली करा लिए हैं और अब किसी के भी आतंकियों द्वारा बंधक बनाए जाने की सूचना नहीं है.

गौरतलब है कि सुनजवां आर्मी कैंप में शनिवार तड़के 5 बजे के करीब 4 से 5 हथियारबंद आतंकी घुस गए थे. ये आतंकवादी जेसीओ क्वॉर्टर में भी घुसने में कामयाब हो गए थे. भारतीय जवान अब आतंकवादियों की तलाश के लिए हर कमरे की छानबीन कर रहे हैं. हमले के फौरन बाद उधमपुर से वायुसेना के पैरा कमांडोज को भी जम्मू एयरलिफ्ट किया गया था.

सेना के मुताबिक तड़के चार से पांच आतंकी जम्मू से सटे सुनजवां के सेना के कैंप में घुस गए. आतंकियों ने संतरी के बंकर पर फायरिंग शुरू कर दी और दो ग्रुप में बंटकर कैंप के अंदर घुस गए. कैंप में सेना के परिवारों के लिए बनाए गए फ्लैट में जाकर आतंकी छिप गए. आतंकियों के खात्मे के लिए राष्ट्रीय राइफल्स के जवानों ने मोर्चा संभाल रखा है. फिलहाल बचे हुए आतंकियों की तलाश जारी है. सेना का कहना है कि आतंकियों के मारे या पकड़े जाने तक करवाई जारी रहेगी.


शहीद कैप्टन कपिल कुंडु की मां ने कहा, यदि दूसरा बेटा होता तो उसे भी सेना में भेजती
 
राजनाथ सिंह ने पुलिस प्रमुख से की बात
केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस संबंध में जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख से बातचीत की तथा जम्मू में सेना के शिविर पर हुए आतंकी हमले से उपजे हालात का जायजा लिया. गृहमंत्री के कार्यालय से किये गए ट्वीट के अनुसार, फोन पर हुई बातचीत में गृह मंत्री ने जम्मू में सैन्य शिविर पर हुए आतंकवादी हमले के संबंध में पुलिस महानिदेशक एस. पी. वैद्य से विस्तृत जानकारी मांगी है. ट्वीट में बताया गया है, ‘‘पुलिस महानिदेशक ने उन्हें स्थिति से अवगत कराया. केन्द्रीय गृह मंत्रालय हालात पर करीब से नजर रखे हुए है.’’

टिप्पणियां
VIDEO- जम्मू के सुंजवान में आर्मी कैंप पर आतंकी हमला


एएनआई, भाषा से इनपुट 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement