NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों ने कुलगाम में मार गिराया खूंखार आतंकी जीनत-उल-इस्लाम, माना जाता था IED एक्सपर्ट

जीनत-उल-इस्लाम आतंकी संगठन अल बद्र (Al Badr) संगठन के साथ जुड़ा हुआ था, हालांकि, अभी दूसरे आतंकी की पहचान नहीं हुई है.

291 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. कुलगाम में ढेर किए दो आतंकी
  2. दूसरे की नहीं हुई पहचान
  3. हथियार और विस्फोटक बरामद
श्रीनगर:

जम्मू-कश्मीर (Jammu And Kashmir) के कुलगाम (Kulgam) जिले में शनिवार को आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकवादी ढेर हो गए. इनमें से एक खूंखार आतंकी जीनत-उल-इस्लाम ( Zeenat-ul-Islam)भी शामिल है. जीनत-उल-इस्लाम आतंकी संगठन अल बद्र (Al Badr) संगठन के साथ जुड़ा हुआ था, हालांकि, अभी दूसरे आतंकी की पहचान नहीं हुई है. यह पहले आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन (Hizbul Mujahideen) के साथ भी जुड़ा हुआ था. मुठभेड़ स्थल से हथियार और विस्फोटक सामग्री बरामद हुई है. 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के काटपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर शाम को सुरक्षा बलों ने वहां घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया. उन्होंने बताया कि सुरक्षा बल के जवान जब तलाशी अभियान चला रहे थे तभी आतंकवादियों की ओर से उन पर गोलीबारी की गई. सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की और इसमें दो आतंकवादी मारे गए. अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से हथियार एवं गोला बारूद बरामद हुआ है.


एलओसी के पास आईईडी विस्फोट, सेना के एक मेजर और जवान शहीद

बता दें, शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास हुए विस्फोट में एक मेजर और एक जवान शहीद हो गया. राजौरी के नौशेरा सेक्टर में आईईडी धमाका हुआ. जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा से लगे इलाके में शुक्रवार को हुए एक आईईडी विस्फोट में सेना के एक मेजर और एक सैनिक शहीद हो गए. अधिकारियों ने बताया कि संदिग्ध आतंकवादियों ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर के लाम क्षेत्र में नियंत्रण रेखा से लगे इलाके में गश्त करने वाले सेना के जवानों को निशाना बनाने के लिए एक आईईडी लगाई थी.

जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी, दो आतंकी मार गिराए

अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट में एक मेजर सहित दो सैन्यकर्मी घायल हो गए. उन्होंने बताया कि दोनों को एक अस्पताल ले जाया गया जहां उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था. इसके बाद सेना के जवानों को आईईडी विस्फोटों और पाकिस्तानी सेना की बार्डर एक्शन टीम (बैट) द्वारा हमले के बारे में अलर्ट किया गया है.

टिप्पणियां

(इनपुट- भाषा)

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement