NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर मंत्रिमंडल में बदलाव, कविंदर गुप्ता ने ली डिप्टी सीएम पद की शपथ

जम्मू-कश्मीर के विधानसभा अध्यक्ष कविंदर गुप्ता ने राज्य के नए डिप्टी सीएम पद की शपथ ले ली है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर मंत्रिमंडल में बदलाव, कविंदर गुप्ता ने ली डिप्टी सीएम पद की शपथ

महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के विधानसभा अध्यक्ष कविंदर गुप्ता ने राज्य के नए डिप्टी सीएम पद की शपथ ले ली है. गुप्ता समेत अन्य कई लोगों ने मंत्री पद की शपथ ली. राज्य के मंत्रिमंडल में फेरबदल किया जा रहा है. उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने रविवार को रात में इस्तीफा दे दिया है. 

भाजपा के जिन नये चेहरों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी गयी है उनमें पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सतपाल शर्मा , कठुआ के विधायक राजीव जसरोटिया तथा सांबा के विधायक दविंदर कुमार मान्याल शामिल हैं . 

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने दिया इस्तीफा

राज्य सरकार में परिवहन राज्य मंत्री सुनील शर्मा को भाजपा ने कैबिनेट मंत्री के रूप में पदोन्नति दी है.  डोडा के भाजपा विधायक शक्ति राज को राज्य मंत्री के रूप में शपथ दिलायी गयी है . 

पीडीपी के जिन मंत्रियों को कैबिनेट में शामिल किया गया है उनमें पुलवामा के विधायक मोहम्मद खलील बांद और सोनवर के विधायक मोहम्मद अशरफ मीर शामिल हैं. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव तथा प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने शपथग्रहण समारोह में हिस्सा लिया.  

मंत्रिमंडल में फेरबदल से पहले जम्मू-कश्मीर के उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने रविवार को रात में पद से इस्तीफा दे दिया. बताया जा रहा है कि कठुआ मामले को देखते हुए यह कदम उठाया गया है, मगर राम माधव ने इसे सिरे से खारिज कर दिया है. 

जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की अगुवाई वाली सरकार में सोमवार को होने जा रहे बहुप्रतीक्षित फेरबदल के लिए सारे इंतजाम कर लिए गए हैं.  बीजेपी ने 17 अप्रैल को पीडीपी-भाजपा सरकार में अपने सभी 9 मंत्रियों को अपना-अपना इस्तीफा देने को कहा था, ताकि इस दो साल पुराने महबूबा मुफ्ती मंत्रिमंडल में नए चेहरे लाए जा सकें. हालांकि पार्टी ने उनके इस्तीफे राज्यपाल के पास नहीं भेजे थे.

VIDEO : कठुआ गैंगरेप मामले में नार्को टेस्ट की मांग

टिप्पणियां


बीजेपी तब से दबाव में है जब से उसके दो मंत्रियों लाल सिंह और चंद्रप्रकाश गंगा ने कठुआ में आठ साल की लड़की से बलात्कार एवं उसकी हत्या के आरोपियों के समर्थन में रैली में हिस्सा लिया था. दोनों मंत्रियों ने बाद में इस्तीफा दे दिया था. राज्य में मुख्यमंत्री समेत अधिकतम 25 मंत्री हो सकते हैं. फिलहाल 14 मंत्री पद पीडीपी के पास हैं और बाकी भाजपा के पास हैं.
(इनपुट एजेंसियों से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement