NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर पुलिस का बयान, घर में घुसकर BSF जवान की हत्या के पीछे लश्कर-ए-तैयबा

उत्तर कश्मीर के पुलिस उप महानिरीक्षक नीतीश कुमार ने बताया कि तीन से चार लश्कर आतंकवादियों ने बंदीपोरा में हाजिन इलाके के पारे मोहल्ले में मोहम्मद रमजान पारे के घर पर हमला किया.

11 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर पुलिस का बयान, घर में घुसकर BSF जवान की हत्या के पीछे लश्कर-ए-तैयबा

आतंकियों ने बीएसएफ के जवान रमीज अहमद पारी की हत्या कर दी थी.

श्रीनगर: पुलिस ने गुरुवार को बताया कि जम्मू एवं कश्मीर के बांदीपोरा जिले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान की हत्या के लिए आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) जिम्मेदार है. उत्तर कश्मीर के पुलिस उप महानिरीक्षक नीतीश कुमार ने बताया कि तीन से चार लश्कर आतंकवादियों ने बंदीपोरा में हाजिन इलाके के पारे मोहल्ले में मोहम्मद रमजान पारे के घर पर हमला किया. उन्होंने कहा, 'आतंकियों ने पहले चाकू से बीएसएफ जवान पर हमला किया और बाद में अंधाधुंध गोलियां चलाईं. इसमें जवान की मौत हो गई और उनके पिता, दो भाई और चाची घायल हो गईं.'

BSF ने भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दो पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार गिराया

पुलिस उप महानिरीक्षक ने कहा, 'शुरुआती जांच से हमें पता चला है कि लश्कर आतंकवादी मुहम्मद भाई और उसके सहयोगियों ने बुधवार को नौ बजे के आसपास रात में हमला किया.' पारे (31) कुछ साल पहले बीएसएफ में शामिल हुए थे. वह 73वें बटालियन में तैनात थे और पिछले 20 दिनों से छुट्टी पर थे.

पुलिस महानिदेशक एस.पी. वैद ने भी कहा कि तीन से चार आतंकियों ने पारे के घर में घुसकर उन्हें बाहर खींच लिया. जब परिवारवालों ने विरोध किया तो उन्होंने गोली चलाई. बीएसएफ ने इस हत्या को कायरतापूर्ण बताया है. मई में, एक कश्मीरी सैन्य अधिकारी को शोपियां में आतंकवादियों द्वारा अपहरण कर मार डाला गया था.

इनपुट : आईएनएस
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement