NDTV Khabar

प्रशासनिक खर्चो में कटौती करने के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने उठाया यह कदम

प्रधान सचिव, वित्त, नवीन कुमार चौधरी की ओर से जारी परिपत्र के अनुसार, ‘‘सरकारी विभागों द्वारा सम्मेलनों, सेमिनारों, कार्यशालाओं के आयोजन में अधिकतम खर्च को ध्यान में रखा जायेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रशासनिक खर्चो में कटौती करने के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने उठाया यह कदम

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ( फाइल फोटो )

जम्मू कश्मीर सरकार   ने प्रशासन में ‘‘वित्तीय अनुशासन को बढ़ावा देने’’ के लिये खर्च में कटौती के विभिन्न तरीके अपनाने शुरू किये हैं और इसी के तहत सरकार ने होटलों में आधिकारिक बैठकें एवं सम्मेलन आयोजित करने पर प्रतिबंध लगाया है. प्रधान सचिव, वित्त, नवीन कुमार चौधरी की ओर से जारी परिपत्र के अनुसार, ‘‘सरकारी विभागों द्वारा सम्मेलनों, सेमिनारों, कार्यशालाओं के आयोजन में अधिकतम खर्च को ध्यान में रखा जायेगा और सिर्फ ऐसे सम्मेलनों, सेमिनारों, कार्यशालाओं इत्यादि का ही इस तरह से आयोजन होना चाहिए जो वास्तव में जरूरी हों.’’ 

महबूबा मुफ्ती ने कहा- घाटी की छवि बदलेगी, मेहमाननवाज कश्मीर कहिए जनाब...

पर्यटन के प्रदर्शनी या हस्तशिल्प प्रदर्शनी के मामलों को छोड़कर राज्य के बाहर प्रदर्शनी, मेलों, सेमिनारों और सम्मेलनों के आयोजन को भी बढ़ावा नहीं दिया जाना चाहिए.

वीडियो :  हार्दिक पटेल राहुल से मिले तो गलत क्या है- अल्पेश

परिपत्र के अनुसार, ‘‘निजी होटलों में बैठकों और सम्मेलनों के आयोजन पर प्रतिबंध होगा और इनके बजाय ऐसे कार्यों के लिये सरकारी भवनों/परिसरों का इस्तेमाल किया जायेगा.’’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement