NDTV Khabar

कश्मीर में ईद के जश्न के बीच कई इलाकों में हिंसा, ग्रेनेड विस्फोट में 1 की मौत

पुलिस प्रवक्ता ने ग्रेनेड विस्फोट की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि शुरुआती जांच से पता लगा है कि ग्रेनेड विस्फोट के कारण शिराज अहमद की मौत हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्मीर में ईद के जश्न के बीच कई इलाकों में हिंसा, ग्रेनेड विस्फोट में 1 की मौत

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. कश्मीर में ईद के दिन भी हुई झड़प
  2. ग्रेनेड विस्फोट में गई प्रदर्शनकारी की जान
  3. कश्मीर के कई इलाकों से झड़प की खबरें
श्रीनगर: कश्मीर में ईद के जश्न के बीच प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच झड़पें भी हुईं. इस दौरान ग्रेनेड विस्फोट में एक प्रदर्शनकारी की भी मौत हो पुलिस ने बताया कि अनंतनाग जिले के ब्राकपोरा गांव में ग्रेनेड विस्फोट हुआ, जिसमें एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई. झड़प में शिराज अहमद घायल हो गया था, जिसने बाद में दम तोड़ दिया. पुलिस प्रवक्ता ने ग्रेनेड विस्फोट की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि शुरुआती जांच से पता लगा है कि ग्रेनेड विस्फोट के कारण शिराज अहमद की मौत हो गई. उन्होंने कहा कि विस्तृत ब्यौरे की प्रतीक्षा है.

यह भी पढ़ें : ईद के मौके पर कश्मीर में कई जगह हिंसा, सुरक्षाकर्मियों ने भीड़ पर काबू पाने के लिए छोड़े आंसू गैस के गोले

उधर, श्रीनगर के सफाकदाल इलाके में भी एक अन्य व्यक्ति झड़प में घायल हो गया. एक अधिकारी ने बताया कि उत्तर कश्मीर के सोपोर और कुपवाड़ा से भी प्रदर्शनकारियों और कानून प्रवर्तन एजेंसियों के बीच झड़पों की खबरें हैं. उन्होंने कहा कि घाटी के अन्य हिस्सों में स्थिति शांतिपूर्ण है. इस बीच, रमजान के पाक माह में रोजे रखने के बाद आज सभी वर्ग के मुस्लिम नमाज अता करने ईदगाह और मस्जिद पहुंचे.

यह भी पढ़ें : नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी गोलीबारी में जवान शहीद

अधिकारियों ने बताया कि सबसे ज्यादा लोग हजरतबल दरगाह में जुटे और वहां हजारों लोगों ने ईद की नमाज अता की. इसके बाद पुराने शहर के ईदगाह में सबसे अधिक लोग नमाज के लिए एकत्रित हुए. शहर के बीचो-बीच स्थित सोनावर तथा सौरा मस्जिदों में भी बड़ी संख्या में लोगों ने ईद की नमाज अता की. घाटी के मुख्य शहरों और जिला मुख्यालय में भी ईद का जश्न मनाया गया.

VIDEO : अगर हम ‘लाल चौक’ के नजदीक सुरक्षित नहीं, तो कहीं भी सुरक्षित नहीं : अब्दुल्ला


टिप्पणियां
इन सबके बीच पाकिस्तानी सेना ने जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास सेना के गश्ती दल को निशाना बनाया, जिसमें 21 वर्षीय जवान बिकास गुरुंग शहीद हो गए. आतंकवादियों ने शहर के बाहरी हिस्से में लासजन में सुरक्षा बलों के एक दस्ते पर भी गोलीबारी की. इस घटना में सीआरपीएफ का एक जवान दिनेश पासवान घायल हो गया. उन्हें श्रीनगर के बादामीबाग में सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

(इनपुट : भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement