गिरफ्त में कश्मीरी अलगाववादियों की एनआईए हिरासत 4 दिन बढ़ी

अदालत ने शुक्रवार को चार कश्मीरी अलगाववादियों की एनआईए की हिरासत शुक्रवार को 10 दिनों के लिए बढ़ा दी.

गिरफ्त में कश्मीरी अलगाववादियों की एनआईए हिरासत 4 दिन बढ़ी

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

पिछले काफी समय से कश्मीर के अलगाववादी नेताओं पर एनआईए ने धनशोधन के मामले में जांच शुरू की है. कुछ लोगों को हिरासत में भी ले लिया है. अदालत ने शुक्रवार को चार कश्मीरी अलगाववादियों की एनआईए की हिरासत शुक्रवार को 10 दिनों के लिए बढ़ा दी. इन अलगाववादियों को पाकिस्तान से धन लेकर कश्मीर में पत्थरबाजी और आतंकवादी गतिविधियों को प्रायोजित करने का आरोप में गिरफ्तार किया गया है. बंद कमरे में सुनवाई के दौरान विशेष न्यायाधीश ओपी सैनी ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को नईम खान, अल्ताफ अहमद शाह, राजा मेहराजुद्दीन कलवल व बशीर अहमद भट्ट उर्फ पीर सैफुल्ला से 14 अगस्त तक पूछताछ करने की इजाजत दे दी.

एनआईए की चार आरोपियों की हिरासत बढ़ाने की मांग की याचिका को अनुमति देते हुए अदालत ने इनके आरोपों की गंभीर प्रकृति का जिक्र किया और कहा कि एजेंसी द्वारा इनके खिलाफ विस्तृत जांच की जानी है. इससे पहले विशेष लोक अभियोजक सिद्धार्थ लूथरा ने अदालत से कहा कि जुटाए गए साक्ष्यों से चार आरोपियों का सामना कराना है. बचाव पक्ष के वकील रवि काजी व रजत कुमार ने एनआईए की याचिका का विरोध किया. उन्होंने कहा कि आरोपियों को मामले में गलत तरीके से फंसाया गया है और इन्होंने जांच में सहयोग किया है. अफताब हिलाली शाह उर्फ शाहिद-उल-इस्लाम, अयाज अकबर खांडे व फारूक अहमद डार उर्फ बिट्टा कराटे को अदालत ने एक सितंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

यह भी पढ़ें : जब वकील ने अदालत से कहा, 'अलगाववादी नेता से भारत माता की जय कहलवाइए'; जज हुए नाराज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एनआईए ने 24 जुलाई को सात प्रमुख कश्मीरी अलगाववादियों नईम खान, अल्ताफ अहमद शाह, पीर सैफुल्ला, राजा मेहराजुद्दीन कलवल, अफताब हिलाली शाह उर्फ शाहिद-उल-इस्लाम व अयाज अकबर खांडे को श्रीनगर से गिरफ्तार किया था, जबकि फारूक अहमद डार उर्फ बिट्टा कराटे को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था.


अदालत ने 25 जुलाई को सभी सातों को 10 दिनों के लिए एनआईए की हिरासत में भेज दिया था.